अलीगढ़, जागरण संवाददाता। सिटी फारेस्ट प्रोजेक्ट के तहत ईशानगर पार्क में विकसित किए जा रहे जापानी जंगल की नींव मंगलवार को नगर विकास व ऊर्जा मंत्री अरविंद कुमार शर्मा ने रखी। उन्होंने कहा कि ऐसा जंगल प्रदेश में नजीर बनेगा। जन्मदिन व पुण्यतिथि पर लोग अपनों की याद में पौधे लगाकर देखभाल करें। जापान की मियावाकी पद्धति से पार्क में सघन पौधारोपण होगा। नगर आयुक्त गौरांग राठी ने क्षेत्रीय लोगों की समिति बनाकर पार्क की देखरेख की जिम्मेदारी दी है। समिति के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर भी किए हैं।

पार्क में जंगल विकसित करना सराहनीय पहल

सारसौल स्थित ईशानगर कालोनी पहुंचे नगर विकास व ऊर्जा मंत्री ने सांसद सतीश गौतम, मेयर मोहम्मद फुरकान, शहर विधायक मुक्ता राजा, कोल विधायक अनिल पाराशर, इगलास विधायक राजकुमार सहयोगी, एमएलसी ऋषि पाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष विजय सिंह, पूर्व विधायक संजीव राजा, महानगर अध्यक्ष विवेक सारस्वत, पूर्व जिलाध्यक्ष गोपाल सिंह, डीएम इंद्र विक्रम सिंह, नगर आयुक्त गौरांग राठी, अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार गुप्त के साथ पार्क में पौधे लगाए। मंत्री ने कहा कि मियावाकी पद्धति से पार्क में जंगल विकसित करना नगर आयुक्त की सराहनीय पहल है। प्रदेश में इसे नजीर बनाया जाएगा। सांसद ने कहा कि स्थानीय लोगों के साथ पार्क की देखभाल के लिए अनुबंध करना निश्चित रूप से सराहनीय कदम है। इससे पार्क की सुंदरता और उसका विकास बरकरार रहेगा। शहर विधायक ने सभी जनप्रतिनिधियों का आभार जताया।

मियावाकी पद्धति से लगाये जाएंगे 1600 पौधे

डीएम ने कहा कि हर व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी समझे तो निश्चित रूप से शहर की सूरत बदल जाएगी। नगर आयुक्त ने बताया कि मियावाकी पद्धति के तहत 1600 पौधे लगाए जाएंगे। इनमें आम, पीपल, सहजन, अमलतास, नीम, बरगद, जामुन के पौधे हैं। नगर निगम निर्धारित लक्ष्य 3800 के सापेक्ष 12 हजार पौधे लगाएगा। नादा पुल के निकट समतल कराए गए भूखंड पर व सड़क किनारे भी नगर विकास व ऊर्जा मंत्री और अधिकारियों ने पौधे रोपे। नगर विकास व ऊर्जा मंत्री ने सिंघारपुर में पौधारोपण कर जिला मंत्री के घर भोजन किया। ईशानगर में आयोजित कार्यक्रम में पार्षद अलका गुप्ता, सहायक नगर आयुक्त ठाकुर प्रसाद सिंह, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. एमके माथुर, जीएम जल अनवर ख्वाजा, अशोक भाटी, सीटीओ विनय राय, कर अधीक्षक राजेश कुमार, रामजी लाल, संजय सक्सेना, अहसान रब आदि शामिल हुए।

सफाईकर्मियों की सुने सरकार

स्थानीय निकाय सफाई मजदूर संघ के अध्यक्ष मानिक लाल, प्रांतीय महामंत्री बिल्लू चौहान ने कमिश्नरी सभागार में नगर विकास व ऊर्जा मंत्री को ज्ञापन दिया। इसमें सफाईकर्मियों की समस्या का समाधान करने की मांग की गई है। ज्ञापन में संविदा कर्मियों को स्थायी करने, आबादी के आधार पर भर्ती करने, शिक्षित कर्मचारियों को लिपिक पद पर पदोन्नति व अन्य मांगें थीं। महर्षि वाल्मीकि सेना के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम जीनवाल ने भी ज्ञापन देकर एक हजार सफाई कर्मचारियों की भर्ती कराने की मांग की।

संशोधित बिल पर निर्णय ले सरकार

भाजपा पार्षदों का दल सर्किट हाउस ने नगर विकास व ऊर्जा मंत्री से मिला। पार्षदों ने संपत्ति कर के संशोधित पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि नगर निगम अधिकारी मनमानी कर रहे हैं। 2017 से संशाेधित बिल वसूला जा रहा है। पार्षद वीरेंद्र सिंह ने कहा कि जब 2022 में संशोधित बिल भेजा जा रहा है तो इसी साल का लिया जाए। 2017 से क्यों लिया जा रहा है। ज्ञापन देने वालों में उपसभापति डा. मुकेश शर्मा, अलका गुप्ता, दिनेश गुप्ता, कुलदीप पांडेय आदि थे।

Edited By: Anil Kushwaha