अलीगढ़, जेएनएन । मानसूनी बारिश जहां आम लोगों को गर्मी से राहत दे रही है, वहीं नगर निगम अधिकारियों के पसीने छुड़ा दिए हैं। शनिवार को पहली बारिश में ही निगम के दावों पोल खुल गई। कई इलाकों में जलभराव हुआ था। शाम तक ही पानी उतर सका। रविवार को सुबह से ही बूंदाबांदी शुरू हो गई। हालांकि, तेज बारिश नहीं हुई। जलभराव की आशंकाओं से घिरे अधिकारी जल निकासी के ठोस प्रबंध करने में जुटे हैं। सोमवार को मौसम साफ रहा, सुबह आसमान में बादलों की आवाजाही रही फिर भी सूर्यदेव ने आंखें तरेरी। शीतल हवाओं ने गर्मी को काबू में रखा। 

किसानों के चेहरे खिले

इन दिनों में मौसम खुशनुमा हो गया है। रविवार की रात से अभी तक बारिश नहीं हुई फिर भी लोगों को गर्मी से राहत मिल रही है। दो दिन पहले हुई बारिश और आसमान में बादल देख किसानों के चेहरे खिल उठे। इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गयी। बारिश के बाद वायु गुणवत्ता सूचकांक भी कम होकर 100 तक पहुंच गया। नमी और ठंडी हवा में मौसम को खुशनुमा बनाए हुए हैं। पिछले दो दिनों से आसमान पर मानसूनी बादलों ने डेरा जमाया हुआ था। शनिवार सुबह झमाझम बारिश हुई, लेकिन फिर बादल छंट गए और तेज धूप निकल आई। दोपहर बाद फिर से आसमान पर काले बदरा छा गए और फिर झमाझम बारिश शुरू हो गई। थोड़ी ही देर में सड़कें फिर जलमग्न हो गईं। गर्मी की मार झेल रहे लोगों ने बारिश में भीगकर मानसून का भरपूर आनंद लिया। 

Edited By: Anil Kushwaha