अलीगढ़ : विजयादशमी के मौके पर शुक्रवार को कई स्थानों पर रावण के पुतलों का दहन किया गया। इस दौरान शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें काली के स्वरूप के करतबों को देखकर दर्शक खूब रोमांचित हुए।

गभाना के गांव वीरपुरा में गंगादास कोल्ड स्टोर के संकट मोचक हनुमान मंदिर प्रांगण में पूर्व प्रधान राधेश्याम शर्मा की स्मृति में काली की शोभायात्रा निकली व रावण का पुतला दहन किया गया। शुभारंभ के एसडीएम प्रवीण यादव व प्रबंधक डा. अजय शर्मा ने पूजा अर्चना कर व हरी झंडी दिखाकर किया। इस मौके पर कोल्ड के आनंदवर्धन सिंह, अरुण बहल, पिटू सिंह, संतोष शर्मा आदि मौजूद रहे। गांव सोमना में रेलवे फाटक के पास राम-रावण के युद्ध का मंचन हुआ। काली भी निकाली गई। इस दौरान भगवान शिव, गणेश व पार्वती की झांकी भी निकाली गई। रावण के पुतला दहन को देखने के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। मढ़ौला में भी काली की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। ऊं सांई नीलकंठ महादेव हास्पिटल पर श्रद्धालुओं ने विशाल भंडारे का आयोजन कराया। यहां डा. शार्दुल विक्रम सिंह, डा. सुनीता सिंह, डा. आरपी सिंह, डा. प्रशांत सिंह, डा. रेनू सिसौदिया, डा. चंचल सिंह, गौतम सिंह, चंद्रवीर सिंह, अंकित सिंह, रीना कुमार, शीतल कुमारी, मीरा सिंह आदि का सहयोग रहा।

बरला के गाजीपुर में शुक्रवार को राष्ट्रीय इंटर कालेज के निकट मेला लगा। शाम पांच बजे काली माता श्रीराम, लक्ष्मण व हनुमान की शोभायात्रा निकाली गई। शाम छह बजे रावण के पुतले धू-धूकर जल उठे।

कस्बा दादों में पूर्व विधायक वीरेश यादव ने फीता काटा। इसके बाद राम व रावण के बीच युद्ध हुआ। इस मौके पर प्रधान रामेश्वर सिंह यादव, उमेश यादव मुनीम, अवधेश यादव, अंशुल यादव, मुकेश पंडित, धर्मपाल डीलर, अमरीश यादव, गुलाब सिंह आदि मौजूद रहे। जलाली में बैंडबाजों के साथ राम व रावण की सेना टीले पर पहुंची। मेले का शुभारंभ भाजपा नेता हेमंत राजपूत ने हरी झंडी दिखाकर किया। मेले में आगे चल रही काली के करतब देख लोग चकित रह गए। अग्निबाण लगते ही रावण का पुतला धू-धू कर जल उठा।

चंडौस में शुक्रवार काली शोभायात्रा रामलीला मैदान से शुरू होकर कस्बे के पुराने बाजार में भ्रमण करते हुए रावण दहन स्थल तक पहुंची। शाम को श्री राम के स्वरूप ने बाण चलाकर रावण का अंत किया। इस मौके पर मनोज मित्तल, शिवम, विक्की वर्मा, अशोक शर्मा, दिनेश सिंह, इंद्रजीत सिंह, एसडीएम प्रवीण यादव, सीओ विशाल चौधरी, कोतवाल सुरजन सिंह, केपी सिंह, विनोद कुमार, रितु तेवतिया आदि मौजूद रहे। वहीं काली शोभायात्रा के रूट को लेकर कई दिनों से चल रही खींचतान में शुक्रवार को एक बार फिर से विवाद की स्थिति आ गई लेकिन मौके पर मौजूद एसडीएम प्रवीण यादव और सीओ विशाल चौधरी ने समुदाय विशेष के लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया।

खैर में गोला कुआं स्थित रावण ग्राउंड में रावण का वध कर उसका दहन किया गया। मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष पति श्यौराज सिंह व विधायक अनूप प्रधान ने रघुनाथजी की पूजा की। एसडीएम कुवंर बहादुर सिंह, तहसीलदार हीरालाल सैनी, सीओ मनीष शांडिल्य व कोतवाल प्रवेश कुमार, भाजपा के युवा नेता प्रवीण राज सिंह, भाजपा नेता सुशील गर्ग मौजूद थे। दर्शकों ने पुतला दहन आतिशबाजी का जमकर आनंद लिया। इस दौरान श्रीरामलीला कमेटी के अध्यक्ष किशन स्वरूप अग्रवाल नेताजी, कालीचरन शर्मा, रमेश चंद्र शर्मा, अनिल रावत, अशोक गोविल, कालीचरन विकल, चंद्रशेखर तौमर, विकास शर्मा, प्रतीक रावत, कुंवरपाल वर्मा, लालाराम शर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

हरदुआगंज में रावण मेले का शुभारंभ पूर्व चेयरमैन राजेश यादव व मनोज चौहान बंटी ने फीता काटकर किया रामलीला मंचन के क्रम में रामघाट रोड पर रसिक टावर के सामने मैदान में लगे मेले में राम-रावण युद्ध का मंचन आकर्षण का केंद्र रहा। इस मौके पर जयवीर सिंह, मनीष अग्रवाल, भगवान स्वरूप शर्मा विजेंद्र सिंह चौहान, रौदास चौहान, जगवीर चौहान, ललित शर्मा, राजकुमार प्रधान, प्रवीन सक्सेना, एड योगेंद्र यादव, मनीष पाठक, देवेश सक्सेना, नितिन गुप्ता, विनोद सोनी आदि मौजूद रहे।

विजयगढ़ में विजय का प्रतीक दशहरा पर्व मनाया गया। इस बार कोरोना गाइडलाइन के चलते रामलीला मंचन एवं रावण दहन नहीं हो सका था। कस्बा के बच्चों में रावण पुतले का निर्माण किया। बैंडबाजे के साथ मर्यादा पुरुषोत्तम राम के स्वरूप ने पुतले का दहन किया। इस अवसर पर तुषार, देव, वरुण, यस, सोहम, कुशाग्र आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran