अलीगढ़, जागरण संवाददाता। लोधा क्षेत्र के गांव गोविंद पुर फगोई निवासी हरीश कुमार रविवार को अपने साथियों के साथ गोंडा रोड पर कार से कहीं जा रहे थे तभी गोंडा रोड की तरफ से 25 भैंस से लदी कैंटर शहर की तरफ आ रही थी। गांव गोविंद पुर फगोई के पास कैंटर ने कार में टक्कर मार दी। इसके बाद कार सवार ने कैंटर की खिड़की पकड़कर कैंटर को रुकवाना चाहा मगर कैंटर चालक ने गाड़ी को तेज गति से लेकर भागाा। अपनी जान मुसीबत में देख खिड़की पर लटका कार सवार शोर मचाने लगा, उसकी आवाज सुनकर ग्रामीणों ने कैंटर का पीछा किया और डेढ़़ किमी तक पीछाकर चालक को पकड़ लिया और कैंटर चालक की पिटाई करके थाना पुलिस को सूचित किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने कैंटर को कब्‍जे में लेकर चालक करे हिरासत में ले लिया। 

भूसे की तरह भरते हैं पशु

क्षमता से अधिक पशुओं को भूसे की तरह लादकर हरियाणा और राजस्थान से अलीगढ कट्टीघर तक पहुंचाते हैं क्षमता चार से छः होने के बावजूद 25 से 30 पशुओं को ठूंस ठूंस कर भर दिया जाता है।

एक भेंस मिली मृत

थाना पुलिस ने कैंटर और चालक को हिरासत में लेने के बाद थाने पर लाया गया जहां पशुओं की गिनती की गयी जिसमें 25 भैंस में से एक भैंस मृत मिली।

रुपये के सामने पुलिस नतमस्तक

कट्टी चालक इतनी दूरी आसानी से तय करने में सक्षम रहते हैं क्यों कि पुलिस को रकम देते जाते हैं और निकलते जाते हैं पुलिस कैंटर में पशु न देखकर रुपये के सामने नतमस्तक हो जाती है। लोधा थाना प्रभारी प्रवीन कुमार ने बताया कि पशु क्रूरता में मुकदमा दर्ज किया जा रहा है एवं मृत भेंस का पोस्टमार्टम कराया जायेगा।

Edited By: Anil Kushwaha