अलीगढ़, जेएनएन।  जिले के कस्बा टप्पल क्षेत्र के एक गांव में आठ साल की बच्ची की हत्या से तनाव बढ़ता जा रहा है। क्षेत्र के लोगों के अलावा राजनीतिक दलों के लोग भी हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इसके लिए बसपा का प्रतिनिधि मंडल डीएम से मिलेगा। वहीं, उत्तर प्रदेश निषाद सभा ने कार्रवाई न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। जिला अध्यक्ष हरपाल सिंह कश्यप ने अबतक की गई पुलिस कार्रवाई पर असंतोष व्यक्त किया है। कश्यप ने आरोप लगाया है कि जिला प्रशासन की सह पर पुलिस इस घटना की लीपा-पोती कर रही है। दोषियों को सख्त सजा दिलाने व घटना से जुड़े अन सुलझे पहलुओं की जांच के लिए सीबीआइ जांच की जाए। अगर जल्द ही घटना का पर्दाफाश नहीं हुआ तो महासभा आंदोलन के लिए वाध्य होगी।

क्या था मामला

टप्पल से करीब पांच किलोमीटर दूर स्थित एक गांव में नौकरीपेशा युवक की आठ वर्षीय बेटी सोमवार की सुबह घर से स्कूल के लिए निकली थी। सुबह 11 बजे बच्ची की दादी पशुओं के लिए चारा लेने खेत पर गई। रास्ते में घर से करीब 500 कदम दूर जामुन के पेड़ के नीचे बच्ची का स्कूल बैग व चप्पल पड़ी मिलीं। तब पता लगा कि बच्ची स्कूल नहीं पहुंची थी। इसके बाद गांव में तलाश शुरू की गई तो पेड़ से कुछ दूर स्थित धान के एक खेत में बच्ची का शव पड़ा मिला। मुंह में मिट्टी भरी हुई थी। टी-शर्ट पर खून के निशान थे। इससे गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस को काफी देर तक शव भी नहीं उठने दिया था। स्वजन दुष्कर्म की आशंका जताते हुए सीबीआइ जंाच की मांग कर रहे थे।

पोस्टमार्टम में हुआ राजफाश

देर रात बच्ची के शव का डाक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया। डाक्टरों के अनुसार बच्ची का गला दबाकर हत्या की गई है। दुष्कर्म की आशंका के चलते स्लाइड तैयार कराकर विसरा भी प्रिजर्व किया गया है। रात में स्वजन अंतिम संस्कार से पहले दोषी की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हुए थे। सुबह एसपी देहात शुभम पटेल, एएसपी खैर मनीष शांडिल्य आदि अधिकारियों ने पहुंचकर उन्हें कार्रवाई का भरोसा दिया। एसपी देहात शुभम पटेल ने बताया कि बच्ची के दादा की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

डीएम व एसएसपी ने बंधाया ढांढस

डीएम डीएम सेल्वा कुमारी, एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसडीएम खैर रेशमा सहाय गांव जाकर पीडि़त स्वजन से मिले। उन्होंने बातचीत के दौरान भरोसा दिलाया कि वारदात का जल्द राजफाश किया जाएगा। डीएम ने पीडि़त परिवार की आर्थिक स्थित की रिपोर्ट लेखपाल से मांगी है। ताकि आर्थिक मदद की जा सके। वहीं, खैर विधायक अनूप प्रधान ने स्वजन को शासन स्तर से हरसंभव मदद व कार्रवाई कराने का भरोसा दिलाया।

पुलिस लेगी एक्सपर्ट राय

पैनल में शामिल डाक्टर दुष्कर्म को लेकर किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचे हैं। इसलिए स्लाइड तैयार की गई है। डाक्टरों का कहना कि गला दबाने या किसी गलत हरकत से ब्लड आ सकता है। पुलिस -प्रशासनिक अफसरों ने चिकित्सकों के पैनल व एक्सपर्ट से उनकी राय ली है। फिर भी स्लाइड रिपोर्ट व फारेंसिक साक्ष्यों की रिपोर्ट हायर फोरेंसिक लैब में एक्सपर्ट राय के लिए भेजा जा रहा है।

करीबियों पर भी पुलिस की नजर

पुलिस इस घटना से जुड़े सारे पहलुओं पर गहनता से जांच कर रही है। एसओजी, सर्विलांस की टीमें घर से लेकर घटनास्थल तक फोन काल की डिटेल खंगालने के साथ ही करीबियों की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। गांव में अधिकांश लोग निषाद बिरादरी से जुड़े हैं। राजनैतिक दलों से जुड़े लोगों की आवाजाही को देखते हुए एलआइयू टीम को भी सक्रिय कर दिया गया है।

बच्ची का चाचा जा चुका है जेल

पुलिस जांच के दौरान खेत स्वामी से पूछताछ में यह बात सामने आई है कि बच्ची का चाचा गांव की ही एक किशोरी से दुष्कर्म के प्रयास मे जेल जा चुका है। दो महीने पहले ही वह जमानत पर जेल से छूटकर आया था। पुलिस इस संभावना पर भी काम कर रही है कि कहीं किसी ने इस रंजिश में ही वारदात को अंजाम तो नहीं दिया । पुलिस की जांच में यह भी पता लगा है कि बच्ची स्कूल खुलने के बाद से सिर्फ एक बार ही पढऩे पहुंची थी। सोमवार को वह नियत समय के करीब 15 मिनट देरी से स्कूल के लिए निकली थी।

सांत्वना देने वालों का तांता, बसपा का प्रतिनिधिमंडल आज डीएम से मिलेगा

हत्या करने वालों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बसपा का प्रतिनिधिमंडल बुधवार को डीएम से मिलेगा। बसपा के जिलाध्यक्ष रतनदीप ने बताया कि इस घटना की जानकारी पार्टी सुप्रीमो मायावती को दी गई है। इसके अलावा रालोद के पूर्व विधायक भगवती प्रसाद सूर्यवंशी, वरिष्ठ भाजपा नेत्री चौधरी शशि ङ्क्षसह, भाकियू के मंडल अध्यक्ष सुंदर सिंह बालियान, भाजपा जिलाध्यक्ष ऋषिपाल ङ्क्षसह, सपा नेता व टप्पल ब्लाक अध्यक्ष पंकज पंडित आदि ने बच्ची के स्वजन से मुलाकात की और सांत्वना दी। सपा नेता सागर शर्मा ने पीडि़त परिवार को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद दिलाने की मांग की है।

आसपा का प्रतिनिधि मंडल घटना स्थल पर पहुंचा

आजाद समाज पार्टी (आसपा) की राष्ट्रीय कोर कमेटी के सदस्य व पूर्व मंत्री चौधरी महेंद्र सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल भी घटना स्थल पर पहुंचा। सिंह ने पीड़ित परिवार से जानकारी जुटाई। न्याय दिलाने व दोषियों को सख्त सजा दिलाने का आश्वासन दिया। इस मौके पर दलवीर सिंह,जितेंद्र कुमार टाइगर, रामप्रसाद, रोहित प्रधान,ओमवीर सिंह, बलवीर सिंह, होरीलाल, वीरेंद्र सिंह, नरेंद्र कुमार,पवन कुमार, राजा बाबू, वीरपाल सिंह आदि मौजूद थे।

Edited By: Anil Kushwaha