जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : इंटरमीडिएट की परीक्षा पास कर चुके विद्यार्थियों में सरकारी व एडेड डिग्री कॉलेजों में प्रवेश के लिए जमकर रस्साकशी होगी। करीब 30 हजार विद्यार्थियों को सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों का रुख करना पड़ेगा। इस साल जिले में यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट की परीक्षा में 23472 छात्र व 14237 छात्राओं समेत कुल 37709 विद्यार्थी पास हुए हैं। जिले में तीन एडेड व छह सरकारी राजकीय महाविद्यालयों समेत करीब 115 डिग्री कॉलेज हैं। तीन एडेड व छह राजकीय महाविद्यालयों में बीए, बीएससी व बीकॉम प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए कुल 7680 सीटें हैं। इंटरमीडिएट पास विद्यार्थी 37709 हैं। ऐसे में 30 हजार 29 विद्यार्थियों को सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों में प्रवेश के लिए मजबूर होना पड़ेगा। ये संख्या और भी बढ़ सकती है क्योंकि 26 अप्रैल को सीबीएसई 12वीं का परिणाम भी घोषित हो रहा है। प्रवेश परीक्षा या मेरिट के आधार पर प्रवेश लिए जाएंगे ये अभी किसी कॉलेज की ओर से तय नहीं है। आवेदन के हिसाब से कॉलेज प्रबंधन प्रवेश परीक्षा करा सकता है। अब विद्यार्थी अपनी जद्दोजहद में लगे हैं। विद्यार्थियों की धड़कनें बढ़ी हुई हैं। कॉलेज, बीए , बीएससी , बीकॉम सीट

डीएस, 640, 640, 240

एसवी, 780, 320, 240

टीआर, 640, 180, 180

राजकीय कॉलेज अतरौली, 420, 360, 180

राजकीय कॉलेज छर्रा, 420, 420, 00

राजकीय कॉलेज खैर, 480, 360, 180

राजकीय कॉलेज टप्पल, 180, 00, 00

राजकीय कॉलेज गौंडा, 420, 00, 00

राजकीय कॉलेज गभाना, 420, 00, 00

......

नोट - केवल डीएस में बीबीए की 140, बीसीए की 140 व बीएएलएलबी की 120 सीटें भी हैं। अन्य में स्थिति उपरोक्त के हिसाब से ही है।

Posted By: Jagran