अलीगढ़ (जेएनएन) : वीडियो वायरल होने और जांच के बाद रिश्वत मांगने वाले थाना सासनीगेट के एसएसआई सुरेंद्र बाबू दोहरे को एसएसपी आकाश कुलहरि ने निलंबित कर दिया है। एसएसआई पर जानलेवा हमले के केस में एफआर नहीं लगाने के नाम पर रिश्वत मांगने का आरोप है।

यह है मामला

क्वार्सी क्षेत्र के देवी नगला निवासी आकाश यादव पर छह अक्टूबर को सासनीगेट इलाके के जयगंज में जानलेवा हमला हुआ था और मुकदमा भी दर्ज हुआ था। आरोप है कि मामले की विवेचना कर रहे थाने के एसएसआई सुरेंद्र बाबू दोहरे ने आरोपितों से सांठ-गांठ कर ली और मामले में साक्ष्य व गवाहों को दरकिनार कर एफआर लगाने की तैयारी कर ली। इस प्रकरण में पीडि़त आकाश यादव ने एसएसआई से मुलाकात की। वीडियो में आरोपित एसएसआई पीडि़त व उसकी मां को धमकाता नजर आ रहा है। एसएसआई कह रहा है कि उन्होंने झूठा केस बनाने को खुद ही अपने ऊपर गोली चलाई थी। मामले में पूरी छानबीन कर रहे हैं।

कसम खाने वाले होते हैं झूठे

एसएसआई ने आगे कहा कि तुमने उनके जैसा गुरु नहीं बनाया बर्ना आरोपित आज जेल में होते। मैं कसम नहीं खाता, कसम खाने वाले झूठे होते हैं। काम के बदले पैसे लेता हूं, ऐसा पैसा नहीं लेता जिसमें अफसरों के सामने उसकी गर्दन फंसे। एसएसआई की यह वीडियो शनिवार को सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई। प्रकरण सामने आने पर एसएसपी आकाश कुलहरि ने सीओ प्रथम विशाल पांडेय को जांच सौंपी है। सीओ ने मामले की गहनता से जांच की। जांच रिपोर्ट के बाद एसएसपी आकाश कुलहरि ने एसएसआई सुरेद्र बाबू दोहरे को निलंबित कर दिया है।

Posted By: Sandeep Saxena

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप