जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : जेवर एयरपोर्ट की सीमा जिले से लगी होने के कारण अलीगढ़ में अब विकास की अपार संभावनाएं हैं। एडीए (अलीगढ़ विकास प्राधिकरण) भी इन्हीं संभावनाओं पर फोकस करते हुए आगामी विकास की रूपरेखा बना रहा है। जल्द ही शहर में इसका बदलाव दिखेगा। कुछ ही दिनों में टीपी नगर की लांचिग हो जाएगी। दैनिक जागरण के प्रश्न पहर में जागरूक पाठक के सवाल पर यह जवाब एडीए के नवागत उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने दिया। इसके अलावा सुधी पाठकों ने सबसे ज्यादा शहर में हो रहे अवैध निर्माण पर सवाल पूछे और इन्हें बताया भी। एडीए वीसी ने सभी को कार्रवाई का आश्वासन दिया। कहा कि दीवाली के बाद अभियान चलाकर अवैध निर्माण ढहाए जाएंगे। विकास कार्य भी तेजी से होंगे। जानिए, बातचीत के प्रमुख अंश..।

आवासीय क्षेत्रों में बड़े स्तर पर फैक्ट्रियां चल रही हैं। शहर में कई जगह हादसे भी हो चुके है, लेकिन इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती?

अजीत सिंह, खैर रोड

यह मामला काफी गंभीर है। अगर आवासीय क्षेत्रों में कहीं व्यावसायिक गतिविधियां चल रही हैं तो नोटिस देकर कानूनी कार्रवाई होगी।

टीपी नगर में जमीन का बैनामा करवा लिया है, लेकिन अब तक भुगतान नहीं हुआ है। कार्यालय में कई-कई चक्कर लगाए, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

रामवीर सिंह, ल्हौसरा

मैंने आते ही सबसे अधिक काम टीपी नगर पर ही किया है। जल्द ही सभी किसानों का भुगतान हो जाएगा। यह प्रोजेक्ट शहर के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।

अवैध निर्माणों पर प्राधिकरण सीलिग की कार्रवाई तो कर देता है, लेकिन कुछ महीनों बाद ही लेन-देन करके सील खोल दी जाती है। इसमें किसकी जिम्मेदारी तय होनी चाहिए।

अजय बघेल, रामबाग

अगर ऐसा होता है तो गलत है। नियमानुसार ही कार्रवाई होनी चाहिए। अगर ऐसा कोई मामला है तो कार्यालय में आकर मुझे अवगत करा सकते हैं। मैं जांच कराकर कार्रवाई करूंगा। लक्ष्मीबाई मार्ग पर काफी दिनों से निर्माण कार्य चल रहा है। कई बार इसकी शिकायत भी प्राधिकरण कार्यालय में की गई है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

अवधेश कुमार, लक्ष्मी बाई मार्ग, मैरिस रोड

मैं इस मामले को तत्काल दिखवाता हूं। अगर एक दो दिन में फिर भी टीम नहीं पहुंचती है, तो कार्यालय में आकर मुझे अवगत कराएं।

सासनी गेट क्षेत्र में एक कांप्लेक्स बना है। इसका भूउपयोग ग्रीन में है, लेकिन मालिक का कहना है कि उन्होंने शमन जमा करके इसका भू-उपयोग व्यावसायिक करा लिया है।

महक वाष्र्णेय, सासनी गेट

ग्रीन बेल्ट का कभी भी भूउपयोग नहीं बदलता है। आप सुबह दस से शाम छह बजे के बीच में कभी भी कार्यालय आकर मुझे जानकारी दें। मैं जांच कराऊंगा।

महेंद्र नगर के आवासीय इलाके में व्यावसायिक गतिविधियां चल रही हैं। इसकी जांच कराकर कार्रवाई की जाए।

-दुष्यंत कुमार, महेंद्र नगर

शहर में यह गंभीर समस्या है। मैंने संबंधित अफसरों से इसको लेकर पूरी रिपोर्ट मांगी है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अफसरों से भी सर्वे कराया जाएगा।

इन्होंने भी किए सवाल

तालसपुर कला के प्रवीन कुमार, द्वारिकापुरी से श्याम सुंदर, सासनी गेट से संजीव, तालसपुर से रमेंद्र, पनैठी से पिकी, ल्हौसरा विसावन से लक्ष्मीनारायण, सिविल लाइन से जुगल किशोर, स्वर्ण जयंती नगर से मोहित शर्मा शामिल हैं।

उपाध्यक्ष की यह हैं प्राथमिकताएं

-टीपी नगर का गुणवत्तापरक क्रियान्वयन

-महायोजना 2031 में शहर के सुनियोजित विकास की रूपरेखा

-जेवर एयरपोर्ट से अलीगढ़ को अधिक से अधिक फायदा पहुंचाना

-अवैध निर्माणों पर प्रभावी कार्रवाई

-जनसुनवाई का गुणवत्तापरक निस्तारण

-शमन के माध्यम से प्राधिकरण की आय में बढ़ोतरी

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस