अलीगढ़ [जेएनएन]। सर, हम एक-दूसरे से आठ साल से प्यार करते हैं और बिना साथ रहे जी नहीं सकते, लेकिन मां-बाप हमारी शादी करने से इन्कार कर रहे हैं। अगर कुछ न कर सको तो हमें गिरफ्तार कर जेल भेज दो। ये गुहार शुक्रवार को एसएसपी दफ्तर पहुंचे प्रेमी युगल ने एसपी क्राइम डॉ. अरविंद कुमार से लगाई।

एसपी को बताई सच्चाई

देहलीगेट क्षेत्र के शाहपुर कुतुब की नीलम माहौर व विशाल माहौर ने बताया कि दोनों पड़ोसी हैं। विशाल ढलाई भट्ठी पर काम करता है, नीलम ताले के कारखाने में काम करती है। नीलम ने बताया कि दोनों के बीच आठ साल से प्रेम संबंध हैैं। पिछले दिनों परिजनों को जानकारी हुई तो एक-दूसरे मिलने से मना कर दिया। नीलम ने बताया कि बात न मानी तो मां उर्मिला, मामा शांति माहौर ने मारपीट कर सिर के बाल काट दिए। धमकाया कि उनकी बात न मानी तो कहीं मुंह दिखाने के काबिल नहीं रहेगी। वह बुधवार को विशाल के घर पहुंच गई और पुलिस को भी खबर दे दी। देहलीगेट पुलिस उन्हें थाने ले गई। जहां दोनों पक्षों में समझौता हो गया। नीलम का आरोप है कि समझौते के बाद भी परिजन शादी करने को तैयार नहीं हैं। अगर उसकी बात न मानी तो वह जान दे देगी, लेकिन विशाल का साथ नहीं छोड़ेगी। विशाल के साथ उसके माता-पिता भी पहुंचे थे।

एसपी ने भेजा थाने

उन्होंने भी कहा कि इन्हें गिरफ्तार कर लो और भले ही जेल भेज दो, लेकिन शादी करा दो। एसपी क्राइम ने उन्हें थाने भेज दिया। इंस्पेक्टर देहलीगेट धीरेेंद्र मोहन शर्मा ने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो चुका है। दोनों बालिग हैं और उन्हें शादी करने को स्वतंत्र कर दिया गया।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस