अलीगढ़, जागरण संवाददाता। एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रयोग पर रोक लगने जा रही है। इसे रोकने से पहले प्रशासन ने कमर कस ली है। 29 जून से तीन जुलाई तक पांच दिनी रेस ( रिडक्शन अवेयरनेस सरक्यूलर एंड इंजमेंट) जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। बुधवार को सुबह सात बजे गांधीपार्क से रेस का शुभारंभ हाेगा।

सिंगल यूज प्‍लास्‍टिक उत्‍पादों पर लगेगी रोक

योगी सरकार ने एक जुलाई से 75 माइक्रोन से कम वजन वाले सिंगल यूज प्लास्टिक उत्पादों पर पूर्णत: रोक लगाने की तैयारी की है। जिले के सभी निकाय के साथ साथ प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के माध्यम से एक खास कार्य योजना तैयार की गई है। बूथ को फ्री प्लास्टिक लाइफ थीम के तहत स्वच्छता शपथ, प्लास्टिक एकत्रीकरण अभियान चलेगा। 30 जून को स्कूलों, बस, स्टैंड, पार्क, रेलवे स्टेशन पर प्लास्टिक सफाई का आयोजन होगा। शैक्षणिक संस्थानों में जागरुक कार्यक्रमों के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक व बेसिक शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखा गया है। एक जुलाई को प्लास्टिक उत्पादों का बहिष्कार करने की शपथ दिलाई जाएगी। इसके लिए सामाजिक संगठन, संस्थान, व्यापारी संगठन व एनजीओ से सहयोग मांगा गया है। दो जुलाई को प्लास्टिक उत्पादों के विकल्पों व जीराे वेस्ट लाइफ स्टाइल की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इसका जिम्मा नगर निगम को दिया गया है। तीन जुलाई को नाले-नालियों से लेकर सार्वजनिक स्थलों पर प्लास्टिक उत्पादों की सफाई होगी। इनमें उद्यमियों से औद्योगिक क्षेत्र में स्वच्छता अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।

इनका कहना है

जिला प्रशासन के साथ प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भी इस अभियान को सफल बनाने में जुटा है। नगर आयुक्त के साथ आज बैठक हुई है। रेस का शुभारंभ होगा। पर्यावरण संरक्षण को लेकर आमजन संजीदा हो, जन जागरण में लोग बढ़चढ़कर भाग लें।

- डा. जेपी सिंह, क्षेत्रीय अधिकारी, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

सिंगल यूज प्लास्टिक से होने वाले दुष्परिणामों पर गौर किया जाए। प्लास्टिक अब हमारे पर्यावरण ही नहीं बल्कि शरीर में भी जहर घोल रहा है। लोगों को सिंगल यूज प्लास्टिक को छोड़ने के लिए दृढ़ संकल्प लेना होगा।

- सुनीता गुप्ता, पर्यावरण प्रेमी

सिंगल यूज प्लास्टिक का चलन सबसे ज्यादा निकाय क्षेत्राें में है। प्लास्टिक पर रोक लगाने की कोशिश भी निकाय क्षेत्रों से होनी चाहिए। लोगों को जागरुक होना पड़ेगा, तभी प्लास्टिक मुक्ति का संकल्प साकार होगा।

- गीता गुप्ता, पर्यावरण प्रेमी

Edited By: Anil Kushwaha