अलीगढ़, जागरण संवाददाता। तमाम प्रयासों के बाद भी नगर निगम शहर से डेयरियां नहीं हटा पा रहा। हाइकोर्ट के निर्देश हैं कि कैटल कालोनी बनने पर डेयरी न हटाई जाएं। कैटल कालोनी बनाने में अधिकारी रुचि नहीं ले रहे। इधर, डेरियां प्रदूषण फैला रही हैं। इन परिस्थितियों ने नगर निगम ने डेरी संचालकों की मनमानी पर अंकुश लगाने की कवायद शुरू कर दी है। संबंधित शिकायतों पर तत्काल एक्शन लिया जा रहा है। अतिक्रमण के खिलाफ भी दूसरे चरण का अभियान शुरू करने का निर्णय लेकर रूपमैप तैयार किया गया है।

सिविल लाइंस थानाक्षेत्र की घटना

सिविल लाइंस क्षेत्र के श्याम नगर से शिकायत मिल रही थी कि यहां संचालित डेरी से नालियों में पशु का मल-मूत्र बहाया जा रहा है। इससे प्रदूषण फैल रहा है। शिकायत का संज्ञान लेकर नगर आयुक्त गौरांग राठी ने सहायक नगर आयुक्त ठाकुर प्रसाद को कार्रवाई के निर्देश दिए। मौके पर एक टीम भेजी तो शिकायत सही मिली। नगर निगम की टीम ने डेयरी को तीन दिन में शिफ्ट करने की हिदायत देते हुए दो पशु जब्त कर गोशाला भिजवा दिए। नगरायुक्त अतिक्रमण करने वालों को नाले-नालियों व सड़क की पटरियों स्वयं अतिक्रमण हटाने की हिदायत दी है। उन्होंने कहा कि नगर निगम द्वारा महानगर में जल निकासी और यातायात व्यवस्था को प्रभावी बनाने के लिए निरंतर प्रवर्तन अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति व दुकान जिन्होनें सड़क नाले-नालियों पर अतिक्रमण कर यातायात व जल निकासी व्यवस्था को बाधित किया हुआ, वे स्वयं अतिक्रमण हटा लें। अन्यथा नगर निगम द्वारा बलपूर्वक कार्रवाई करते हुए अतिक्रमण ध्वस्त व जुर्माना वसूला जाएगा।

30 से चलेगा अतिक्रमण के खिलाफ अभियान

सहायक नगर आयुक्त ठाकुर प्रसाद सिंह ने बताया कि 30 जून को दुर्गावाड़ी कालोनी (जोन एक), पांच जुलाई को देहलीगेट से गौंडा मोड़ तक (जोन तीन), छह जुलाई को गौंडा मोड़ से नीवरी मोड़ तक (जोन तीन), आठ जुलाई को हाथरस अड्डा से पालीवाल इंटर कालेज होते हुए अन्नू पेठा भंडार तक (जोन दो), 11 जुलाई को रामलीला ग्राउंड से मदारगेट चौकी होते हुए सर्राफा मार्केट तक (जोन दो), 13 जुलाई को सासनीगेट चौराहे से जयगंज होते हुए फूल चौराहे तक (जोन तीन), 14 जुलाई को शिवाजी मार्ग व टीकाराम कालोनी (जोन दो), 16 जुलाई को आइटीआइ रोड बिजली घर से बरौला पुल के नीचे तक (जोन चार), 18 जुलाई को देहलीगेट चौराहे से तुर्कमान गेट पुलिस चौकी तक व सराय मियां से जंगलगढ़ी तक (जोन तीन), 20 जुलाई को नौरंगाबाद छावनी से पला रेलवे फाटक तक (जोन दो), 21 जुलाई को कुंवर नगर कालोनी व देवी नगला पुलिया से सूखा पीपल मानसिंह तिराहा तक (जोन दो), 23 जुलाई को मस्कट हौंडा मेलरोज बाईपास से जलालपुर होते हुए नादा पुल चौराहे तक (जोन चार) और 25 जुलाई को सारसौल चौराहे से नादा पुल चौराहे तक (जोन चार) अभियान चलाया जाएगा।

Edited By: Anil Kushwaha