जासं, अलीगढ़ : गांधीपार्क क्षेत्र के डोरी नगर निवासी फल विक्रेता गोपाल शर्मा के इकलौते बेटे अतुल कुमार शर्मा की हत्या के डेढ़ माह बाद भी पुलिस राजफाश नहीं कर सकी है। एसओजी व सर्विलांस टीम भी पुलिस की मदद कर रही हैं, फिर भी पुलिस हत्यारों की धरपकड़ तो दूर, उनकी पहचान तक नहीं कर सकी है।

10 सितंबर की शाम 12 वर्षीय अतुल घर से मां से बाजार जाने की कहकर निकला था। फिर नहीं लौटा। स्वजन पहले खोजते रहे। न मिला तो थाने पहुंचकर गुमशुदगी दर्ज करा दी। दो दिन तक पुलिस बालक को तलाश न कर सकी और उसका शव क्वार्सी क्षेत्र के कयामपुर मोड़ पर मिला। बालक की गला दबाकर हत्या करने की पुष्टि हुई। गुमशुदगी को अपहरण व हत्या में तरमीम कर दिया गया। पुलिस जांच के दौरान सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में साफ हुआ कि बालक घर से बाजार में जाता तो दिखाई पड़ा, लेकिन उसके बाद सुराग नहीं चल सका। एटा चुंगी के चौराहे पर लगा सीसीटीवी कैमरा भी घटना से कुछ देर पहले ही खराब हो जाना पाया गया। पड़ताल के दौरान यह जानकारी मिली कि घटना से कुछ देर पहले तक कैमरा सही काम कर रहा था। बालक के गायब होने के दौरान ही कैमरा खराब हुआ। यह संयोग था या फिर साजिश। जांच में जुटी पुलिस अब तक किसी ठोस निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकी है, जबकि संदिग्ध लोगों से भी बातचीत कर चुकी है। एसएसपी मुनिराज का कहना है कि कई बिदुओं पर जांच अभी जारी है। बालक की हत्या के राजफाश के साथ हत्यारे जल्द पकड़े जाएंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021