अलीगढ़(जेएनएन)। टप्पल कांड को लेकर साध्वी प्राची ने फिर विवादित बयान दिया। पीड़ित परिवार से मिलने टप्पल जाने से उन्हें जेवर टोल प्लाजा पर रोक दिया गया था। यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि  बिटिया के परिजनों को न्याय के लिए मोमबत्ती लेकर खड़े होने और इंडिया गेट पर मशाल लेकर जलूस निकालने से काम नहीं चलेगा। इन दरिंदों को पेट्रोल डालकर फूंक देना चाहिए। इससे दरिंदगी कम होगी।

....वहां अपराधी होते हैं अधिक

साध्यवी ने एक समुदाय विशेष के लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग जहां अधिक संख्या में रहते हैं वहां अपराध अधिक होते हैं। खासकर मासूम बच्चियों के साथ हैवानियत की घटनाएं होती हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि ऐसे मामलों से जुड़े  जितने भी आरोपित जेलों से जमानत पर बाहर हैं उन्हें फिर से जेलों में बंद कर दिया जाए।

अधिकारियों से हुई नोकझोंक

साधप्रशासनिक अफसरों से नोकझोंक भी हुई। पीडि़त परिवार से मिलने से रोका गया है। आहत हूं। काननू का पालन करती हूं, इसलिए चुप हूं।  बिटिया के परिजनों को न्याय दिलाया जाएगा। इसके लिए सीएम से फोन पर बातचीत हो गई है। पीडि़त परिवार को सीएम से मिलवाने लखनऊ ले जाने या सीएम को यहां बुलवाने का प्रयास करूंगी।

सीएम भी तो आकर सांत्वना  दे सकते हैं : पीड़ित पिता

दुनिया छोड़ चुकी बेटी के पिता ने कहा है कि पुलिस की कार्रवाई ठीक है, पर अभी मुझे लगता है कि पुलिस सही जांच कर दोषियों को सख्त सजा दिलाए। अभी एसआइटी की जांच भी पूरी होनी है। वो क्या करती है, यह भी अहम है। कहा पूरा देश हमारे साथ है, हर कोई इस घटना के आरोपितों पर सख्त कार्रवाई की मांग कर रहा है। ऐसे में सीएम भी तो आकर सांत्वना दे सकते हैं। मैं अभी मिलने नहीं जा सकता।

टप्पल जैसी घटनाओं की न होने पाए पुनरावृत्ति : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बेटियों की सुरक्षा को लेकर अफसरों को संवेदनशील रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में पुलिस अधिकारियों को हिदायत दी कि महिलाओं से जुड़ी छोटी-छोटी से सूचना को अत्यंत गंभीरता से लिया जाए। टप्पल जैसी घटनाएं कहीं और न होने पाएं। इसके लिए जरूरी उपाय किए जाएं।

एक दिवसीय दौरे पर रविवार को गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री ने गोरखनाथ मंदिर में पुलिस, प्रशासन समेत अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। मुख्यमंत्री ने इस दौरान कानून व्यवस्था की समीक्षा करने के साथ विकास से जुड़ी परियोजनाओं की प्रगति रिपोर्ट भी ली।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mukesh Chaturvedi