हाथरस : तालाब चौराहा पर ओवरब्रिज निर्माण के कार्य ने तेज गति पकड़ ली है। सेतु निगम की ओर से कम ऊंचाई के बैरियर लगाने के साथ अब अस्थाई बेरीके¨डग के लिए बोर्ड भी लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा अन्य बैरियर बनवाने का कार्य चल रहा है। वहीं सामान की भी आमद शुरू हो गई है। इस कार्य को लेकर यातायात पुलिस ने भी रूट डायवर्जन का प्लान तैयार कर लिया है। जिस दिन से रूट डायवर्जन होगा। रोडवेज बसों के किराए में भी इजाफा होगा।

तालाब चौराहा पर लगे जाम के चलते ट्रैफिक पुलिस ने रूट डायवर्जन का ट्रायल भी किया। ऐसे में छोटे वाहनों को बागला कॉलेज मार्ग होते हुए अलीगढ़ रोड पर निकाला गया तो अन्य वाहनों को इगलास अड्डा फाटक से होते हुए बाइपास से गुजरी। खास बात यह है कि तालाब चौराहे पर बन रहे ओवर ब्रिज को लेकर काफी दिनों से कोशिश चल रही थी, लेकिन राजनीतिक पार्टियां पिछले दस साल से श्रेय लेने में लगी हुई थीं। जनप्रतिनिधि बयानबाजी तक सीमित थे, लेकिन मौजूदा सरकार ने लोगों की समस्या को गंभीरता से लिया और ओवर ब्रिज का काम शुरू करा दिया है।

नगला भुस से जाएंगी बसें

टीआइ शौर्य कुमार का कहना है कि रूट डायवर्जन का प्लान तैयार है। सेतु निगम काम शुरू करने से बारह घंटे पहले उन्हें अवगत कराएगा। उसी दिन से ट्रैफिक को तालाब चौराहा से अलीगढ़ रोड पर रोकते हुए डायवर्जन कर दिया जाएगा। रोडवेज की बसें नगला भुस होकर ही रोडवेज बस स्टैंड आएंगी और वापसी का भी यही रूट होगा।

Posted By: Jagran