अलीगढ़, जेएनएन । कोरोना संक्रमण में घाटे से जूझ रहे रोडवेज ने आरटीओ में सरेंडर की गई 196 बसों को फिर से विभिन्न रूटों पर उतारेगा। पिछले दिनों अलीगढ़ परिक्षेत्र की 196 रोडवेज बसों के परमिट आरटीओ दफ्तर में सरेंडर कर दिए गए थे। एक जून से अनलाक होने व बसों का संचालन होने के बाद से अब बसों में यात्रियों की संख्या भी बढ़ने लगी है। ऐसे में रोडवेज ने सरेंडर की गई बसों को फिर से सड़कों पर उतारने का फैसला लिया है। इसके लिए आरटीओ दफ्तर में परमिट जारी कराने की प्रक्रिया फिर से शुरू कर दी गई है। आरएम रोडवेज मोहम्मद परवेज खान ने बताया कि कोरोना के चलते लाकडाउन में पूर्ण बंदी थी। बस संचालन न होने व सवारियां की कमी के चलते लगातार हो रहे घाटे से बचने को रोडवेज को अपनी 686 बसों में से 196 बसों का परमिट सरेंडर करने का फैसला लेना पड़ा था। उन्होंने बताया कि अब सहालगों के चलते बसों में यात्रियों की संख्या पहले की अपेक्षा बढ़ने लगी है। ऐसे में सरेंडर की गई बसों का परमिट फिर से जारी कराने की प्रक्रिया शुरू करा दी गई है, जल्द ही इन बसों को विभिन्न रूटों पर संचालित किया जायेगा। 

डिपो सरेंडर बसों की संख्या

अलीगढ़ 43

बुद्ध विहार 45

अतरौली 13

एटा 45

कासगंज 17

हाथरस 21

नरौरा 12

Edited By: Anil Kushwaha