अलीगढ़, जागरण संवाददाता। जिले में अतरौली, हरदुआगंज व इगलास क्षेत्र में हुए सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे के बाद आसपास के लोग मौके पर पहुंच गए। लोगों ने परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मृतकों के शव पोस्‍टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं। इधर घटना की जानकारी मिलने  परिवार के लोगों में शोक छा गया। पहला हादसा अतरौली कोतवाली क्षेत्र के औरनी दलपतपुर के पास हुआ। यहां कस्बा अतरौली के भानपाड़ा निवासी 45 वर्षीय दिनेश कुमार सोमवार को बाइक से किसी काम से छर्रा गए थे। देर रात वे वापस घर आ रहे थे। तभी पीछे से आ रहे दूध से भरे टैंकर ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में दिनेश ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

चार बहनों में अकेला था तस्‍लीम

उधर टैंकर को पुलिस ने पकड़ लिया, चालक फरार हो गया। दिनेश तीन भाईयों में दूसरे नंबर के थे और तीन बच्चों के पिता थे। पत्नी सुनीता समेत स्वजन हादसे के बाद बेहाल हैं। उधर, अकराबाद क्षेत्र के गांव पिलखना निवासी 26 वर्षीय तस्लीम पुत्र अजमेरी की छोटी बहन बीमार है और जेएन मेडिकल कालेज में भर्ती है। सोमवार को तस्लीम बहन को देखने अलीगढ़ आए थे। रात में वापसी में शेखा झील के पास पहुंचे तभी किसी वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में तस्लीम ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। तस्लीम चार बहनों के बीच इकलौता भाई था। इगलास क्षेत्र के गांव बझोड़ा निवासी 70 वर्षीय पोप सिंह 16 अक्टूबर की शाम इगलास से पैदल गांव जा रहे थे। जैसे ही वे नगला हीरा के निकट पहुंचे तभी किसी वाहन ने टक्कर मार दी। हादसे में गंभीर रूप से घायल हो जाने पर उन्हें शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उन्होंने सोमवार देर रात दम तोड़ दिया। हादसे के बाद स्वजन बेहाल हैं।