अलीगढ़ (जेएनएन)। हाथरस सांसद राजवीर दिलेर के इस्तीफा के बाद रिक्त चल रही इगलास विधानसभा (सुरक्षित) जिले की सियासत का मुख्य केंद्र बिंदु बनी हुई है। रालोद खोई हुई इस सीट पर फिर कब्जा करने के लिए जनप्रिय व संघर्षशील प्रत्याशी की तलाश में है।

लोकप्रियता के किए दावे
पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व शिक्षामंत्री डॉ. मसूद अहमद ने दो दिन डेरा डालकर क्षेत्र की जनता की नब्ज टटोली। इस दौरान दावेदारों ने भी अपनी लोकप्रियता के तमाम दावे किए। अगस्त माह के अंतिम सप्ताह तक प्रत्याशी घोषित किया जा सकता है।

रालोद का दो बार रहा कब्जा
रालोद के प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष जिला पंचायत सदस्य सुमन दिवाकर, पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सीपी सिंह धनगर के पुत्र मुकेश धनगर, ओमवीर सिंह दिवाकर, पार्टी के इगलास विधानसभा प्रभारी संजीव सूर्यवंशी, राम खिलाड़ी सहित 15 लोग प्रबल दावेदार हैं।  रालोद का इस सीट पर वर्ष 2007 से वर्ष 2017 तक लगातार दो बार कब्जा रहा है। इससे पहले किसानों के मसीहा चौ. चरण सिंह के परिजन व अन्य दलों से भी प्रत्याशी जीतते आए हैं।

चौ. अजित को सौंपी सूची
इस बार प्रत्याशी चयन को लेकर लोकदल का शीर्ष नेतृत्व बेहद गंभीरता से जुटा हुआ है। डॉ. मसूद ने पांच चुनिंदा नाम अजित सिंह को सौंपे हैं। इन नामों पर चर्चा करने के लिए जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी को बुलावा आया है। कुछ दावेदार सीधे टिकट के लिए दावेदारी कर रहे हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस