अलीगढ़ (जेएनएन)। इगलास विधानसभा में हो रहे उपचुनाव में निर्धारित समय में बगैर बी फार्म के रालोद प्रत्याशी सुमन दिवाकर का नामांकन खारिज हो गया।  मंगलवार की दोपहर में रालोद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद के नेतृत्व में पदाधिकारी व कार्यकर्ता जिला निर्वाचन अधिकारी से मिलने गए। मुलाकात नहीं हुई तो रालोद के पदाधिकारी व कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए और प्रर्दशन शुरू कर दिया।

यह है मामला

रालोद प्रत्याशी सुमन दिवाकर का नामांकन खारिज हो गया। उन्होंने इगलास विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव के लिए सोमवार को अंतिम दिन नामांकन किया था। निर्धारित समय तीन बजे तक बी फार्म नहीं आ सका था। तीन बजे तक प्रस्तावक भी एक था, जबकि निर्दलीय के लिए दस की जरूरत होती है और पार्टी प्रत्याशी बी फॉर्म के बिना नहीं माना जाता। मंगलवार की दोपहर में रालोद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद के नेतृत्व में कार्यकर्ता जिला निर्वाचन अधिकारी से मिलने गए। जिला निर्वाचन अधिकारी नहीं मिले तो कार्यकर्ता सड़क पर आ गए और प्रर्दशन शुरू कर दिया।

नामांकन खारिज होना लगभग तय

अहम बात यह है कि नामांकन पत्रों की जांच मंगलवार को होनी है। फार्म बी के अभाव के रालोद प्रत्याशी सुमन दिवाकर का नामांकन लगभग खारिज हो गया। इसके अंतिम समय तीन बजे के बाद अधिकारिक घोषणा हो सकती है।

पुलिस-प्रशासन ने कसी कमर

लोकदल प्रत्याशी सुमन दिवाकर का नामांकन खारिजहो गया। बाद में कार्यकर्ताओं के विरोध के बाद हालात क्या होंगे। इससे निबटने की तैयारी प्रशासन व पुलिस अधिकारियों ने कर ली है। दोपहर में ही सीओ सिविल लाइन ने कलक्ट्रेट पर तैनात पुलिस कर्मियों की क्लास लगाई और सख्त हिदायत दी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021