अलीगढ़, जागरण संवाददाता। महंगाई से त्रस्त आमजन को सरकार ने राहत देने की कोशिश की है। केंद्र सरकार ने सब्सिडी घटाकर तेल की कीमतों को नियंत्रण में करने की पहल की है। इससे पेट्रोल पर 9:30 रुपये व डीजल पर सात रुपये कम होंगे। राज्य सरकार ने वैट कम कर दिया तो यह पैसा और भी कम हो जाएगा। उज्ज्वला गैस उपभोक्ताओं को 200 रुपये प्रति सिलेंडर पर सब्सिडी देने का फैसला किया गया है। इससे चूल्हा फूंक रही महिलाओं को राहत मिलेगी। जिले में करीब पौने तीन लाख उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। ताला-हार्डवेयर में प्रयोग किए जाने वाली आयरन शीट पर आयात शुल्क घटने से उद्यमियों को कुछ राहत मिलेगी।

भाजपा महानगर व्‍यापार प्रकोष्‍ठ ने बुलाई बैठक

केंद्र सरकार के निर्णय की जानकारी मिलते ही भाजपा महानगर व्यापार प्रकोष्ठ के बारहद्वारी स्थित पार्टी कार्यालय पर बैठक बुलाई गई। प्रकोष्ठ महानगर अध्यक्ष जय गोपाल वीआईपी ने सरकार ने तेल की कीमत कम करने के लिए जिन ठोस उपायों का प्रयोग किया है उससे आयात शुल्क घटाने से ताला-हार्डवेयर में प्रयोग होने वाले कच्चे माल के दाम काबू में आएंगे। अलीगढ़ के हित में बड़ा फैसला है। इससे कीमतों में राहत आएगी। तेल की कीमत कम होने से रसोई उपयोगी खाद्यान की कीमतें भी नियंत्रित होंगी। केंद्र सरकार के फैसला का स्वागत करने वालों में आलोक प्रताप सिंह, विशाल आनंद, आशीष डिस्पोजल, हिमांशु वाष्र्णेय, राजीव सक्सेना, प्रमोद कुमार सिंह, अमित सारस्वत, नीरज सिंह, अभिनव महेश्वरी आदि शामिल हैं।

इनका कहना है

महंगाई को नियंत्रित करने को सरकार ने सही कदम उठाए हैं। तेल की कीमत घटने से लोगों का बिगड़ता बजट सही होगा। परचेङ्क्षजग पावर बढ़ेगी।

डा. तनु वाष्र्णेय, अर्थशास्त्री

ताला-हार्डवेयर कारोबारियों को सरकार ने तोहफा दिया है। डीजल की कीमत कम होने से ट्रांसपार्ट का भाड़ा नियंत्रित होगा। आयरन व अन्य सीट आयात शुल्क घटने से लाभ मिलेगा।

विष्णु भैया, आयरन शीट के थोक कारोबारी

सरकार ने तेल की कीमतों को कम किया है, मगर उसका असर बाजार में दिखना चाहिए। तेल की चढ़ती कीमतों का हवाला देकर खाद्य वस्तुओं के बढ़ाए गए दाम भी कम होने चाहिए।

मीरा वाष्र्णेय, गृहणी

सरकार ने गरीबों के आंसू पोंछने का काम किया है। बढ़ती रसोई गैस की कीमतों से सिलेंडर रिफिल नहीं कराया था, सब्सिडी मिलने से राहत मिलेगी।

मीनाक्षी देवी, उज्ज्वला गैस उपभोक्ता

Edited By: Anil Kushwaha