अलीगढ़, जागरण संवाददाता। UP Assembly Elections 2022 विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को नामांकन करने वाले प्रत्याशी व उनके समर्थकों का रैला उमड़ा। पिछले पांच दिन से महानगर में चुनाव प्रचार की सामग्री बेचने वाले दुकानदारों पर ग्राहकों की संख्या बढ़ गई है। विभिन्न राजनीतिक दलों के पार्टी सिंबल लगे झंडे, कैप व अंग वस्त्रों की बिक्री में उछाल आया है। प्रिटिंग प्रेस व अन्य कारोबारियों के यहां स्टीकर व बैज की मांग भी बढ़ गई है।

चुनाव प्रचार सामग्री से अटा बाजार

नामांकन में भाग लेने आए समर्थक पार्टी का झंडा, कैप, पार्टी सिंबल के बैज सहित अन्य सामग्री खरीदते हुए लोग देखे गए। बाजार में योगी-मोदी के नाम वाली टोपी, अगौछे, नमो ब्रांड की टी शर्ट भी बाजार में उपलब्ध हैं। कांग्रेस के झंडे, प्रियंका गांधी की टी शर्ट, लड़की हूं लड़ सकती हूं के लिए विशेष आर्डर मिल रहे हैं। प्रियंका के मुस्कराते हुए चेहरे वाला पट्टा, स्क्राल की भी बाजार में मांग है।

दिल्‍ली व मेरठ के गारमेंट फैक्‍ट्री को मिल रहे आर्डर

सपा- रालोद गठबंधन के झंडों की बाजार में मांग है। मगर यह बाजार में उपलब्ध नहीं हैं। इसके विशेष आर्डर पर दिल्ली से मंगाए जा रहे हैं। रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की फोटो लगी टी शर्ट की विशेष मांग है। इसके लिए दिल्ली व मेरठ की गारमेंट फैक्ट्री के एजेंट विशेष आर्डर ले रहे हैं। झंडों की विशेष अलग अलग वैरायटी व साइज की भी मांग है। बाजार में एक फीट से लेकर तीन मीटर तक के पार्टी के झंडे मिल रहे हैं। भगवा कलर के झंडों की भी कई वैरायटी बाजार में उपलब्ध है। बसपा इस चुनाव में अपने बूते पर उतरी है। इस लिए नीले रंग के पार्टी सिंबल के झंडा, पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती के फोटो लगी टी शर्ट, कैप व झंडों की भी विशेष मांग है। सभी प्रत्याशियों के समर्थकों ने नामांकन की तैयारी शुरू कर दी है। झंडों के अलग से आर्डर मिल रहे हैं।

हर बजट के सामान उपलब्‍ध

कारोबारी भुवनेश आधुनिक ने बताया है कि कई घोषित प्रत्याशियों के समर्थक प्रचार सामग्री लेने के लिए पहुंचे। वे निजी संसाधनों से नामांकन के लिए उत्साहित हैं। झंडे, टोपी, टी शर्ट, अगौछे की मांग भी है। यह हर बजट में उपलब्ध हैं।

Edited By: Anil Kushwaha