अलीगढ़, जेएनएन । खैर थाना क्षेत्र के गांव गौमत व रतनपुर में नवनिर्वाचित प्रधान द्वारा जुलूस निकालने का मामला प्रकाश में आया है। वीडियों इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ। इस दौरान सोशल डिस्टेसिंग की भी जमकर धज्जियां उड़ाई गई। पुलिस ने पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए 30 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जमकर उड़ायी गयी नियमों की धज्‍जियां

गौमत गांव में हाल में ही पंचायत चुनाव में जीतने वाले प्रधान ओमप्रकाश उर्फ ओमी के द्वारा गांव में विजय जुलूस निकाला गया। इस दौरान इनके समर्थकों के द्वारा गाजे बाजे के साथ नाचे कूदे। इस पूरे मामले में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ायी गई हैं। इतनी भीड़ एकत्र होकर विजय जुलूस निकाला गया और किसी के मुंह पर मास्क नहीं था। कहीे भी सोशल डिस्टेंस दिखाई नहीं दी। जबकि सरकार के द्वारा साफ तौर पर निर्देश दिए गए थे कि पंचायत चुनाव के परिणाम आने के बाद कोई भी विजय जुलूस नहीं निकालेगा। इस विजय जुलूस को निकालने की जानकारी जैसे ही थाना पुलिस को मिली तो पुलिस हरकत में आयी और आनन फानन में नवनिर्वाचित प्रधान ओमप्रकाश पुत्र सावन्ता, गोपाल पुत्र सावन्ता, राकेश पुत्र प्रताप, सतीश पुत्र सांवलिया, महीपाल सिंह पुत्र हुकम सिंह, मुकेश पुत्र ओमप्रकाश व 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम के अंतर्गत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आरोपितों के खिलाफ होगी वैधानिक कार्रवाई

सीओ शिवप्रताप सिंह ने बताया कि मतगणना के बाद जिन प्रधानों ने विजय जुलूस निकाला था उन सब प्रधानों के इंटरनेट मीडिया पर वायरल वीडियों की जांच की जा रही है। कई प्रधानों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज की जा चुकी है। आरोपितों की तलाश जारी है। कई नवनिर्वाचित प्रधानों के खिलाफ कार्यवाही करना बाकी है उनकी जांच चल रही है। कोविड 19 का उल्‍लंघन करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। बुधवार को कोतवाली खैर में नवनिर्वाचित प्रधानों की बैठक बुलायी गई है। कोविड 19 की गाइडलाइन के बारे में बताया जाएगा और चेतावनी भी दी जाएगी। उल्‍लंघन करने वालों के खिलाफ वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।