इगलास, जेएनएन : एक ओर बिजली विभाग के कर्मी तेजी से बिजली चोरी के खिलाफ अभियान चला रहे हैं तो

दूसरी ओर लोग इसके विरोध में उनके साथ मारपीट कर रहे हैं। सोमवार को भी कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला चूरा में बिजली चेकिंग करने गई टीम का लोगों ने विरोध करते हुए हमला बोल दिया। कर्मचारियों के साथ मारपीट की गई और सरकारी दस्तावेज फाड़ दिए।


चूरा में पहुंची थी टीम

जानकारी के मुताबिक सोमवार को बिजली डिवीजन चतुर्थ के क्षेत्र में तैनात बिजली कर्मचारी विकास चौधरी, कोमेश, हरीश बाबू कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला चूरा में बिजली कनेक्शन चेक करने के लिए पहुंचे। विकास चौधरी का कहना है कि संयोजन चेकिंग के दौरान जितेंद्र पुत्र किशनवीर सिंह व इसके बेटे राहुल ने टीम के साथ अभद्रता की। आरोप है कि दोनों आरोपितों ने गाली गलौज करते हुए सरकारी दस्तावेज फाड़ दिए और कर्मचारियों के साथ मारपीट की। कर्मचारियों ने किसी प्रकार अपने आप को बचाया।


कर्मचारियों ने दी तहरीर

इस घटना के संबंध में उच्चाधिकारियों को सूचना देने के साथ ही कर्मचारियों ने कोतवाली पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दी थी। कोतवाल प्रदीप कुमार ने बताया कि विकास चौधरी पुत्र श्याम सुंदर सिंह निवासी जमालपुर की तहरीर पर जितेंद्र व राहुल के खिलाफ धारा 332, 353, 504, 427 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। घटना की जांच कर कार्यवाही की जाएगी। विदित रहे कि गांव महुआ में भी 10 दिन पहले बिजली विभाग की टीम के साथ मारपीट की गई थी। जिसमें संविदाकर्मी विपिन कुमार के सिर में चोट आई थी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस