अलीगढ़ : कोतवाली क्षेत्र के कस्बा बेसवां में रविवार की दोपहर को मुख्य बाजार में पुराने घंटाघर गेट के निकट बनी दुकानों के पीछे हैंड ग्रेनेड पड़ा हुआ मिलने से सनसनी फैल गई थी। मौके पर पहुंची पुलिस व बम निरोधक दस्ते ने हैंड ग्रेनेड को अपने कब्जे में ले लिया था। बम निरोधक दस्ता हैंड ग्रेनेड को अपने साथ ले गया था। बम निरोधक दस्ता के प्रभारी ऊदल सिंह ने बताया था कि हैंड ग्रेनेड डिफ्यूज है उससे किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है।

हैंड ग्रेनेड मिलने के बाद खतरा तो टल गया लेकिन बड़ा सवाल यह है कि वह आया कहां से। इस संबंध में दूसरे दिन भी पुलिस पर कोई जवाब नहीं है। कोतवाल सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि बेसवां चौकी प्रभारी संजय आर्य द्वारा इस संबंध में जांच की जा रही है। वहीं बम निरोधक दस्ता हैंड ग्रेनेड के संबंध में जांच कर रहा है। रिपोर्ट आने पर जानकारी हो सकेगी। एसपी देहात डॉ. यशवीर सिंह का कहना है कि बम स्क्वायड इसकी जांच कर रहा है।

रविवार को जब कस्बे में हैंड ग्रेनेड मिला तो न केवल क्षेत्र में सनसनी फैली बल्कि पुलिस विभाग भी सकते में आ गया। एतहियात के तौर पर लोगों को वहां से हटाया गया। बम निरोधक दस्ते ने पहुंचकर हैंड ग्रेनेड को अपने कब्जे में लिया। तभी से बाजार में चर्चाओं का बाजार गर्म है। हैंड ग्रेनेड कहां से आया, कैसे आया जैसे तमाम सवाल लोगों की जुबां पर हैं। लोगों की उम्मीद थी कि आज पुलिस कुछ खुलासा करेगी लेकिन पुलिस जांच में अभी तक कुछ सामने नहीं आया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस