अलीगढ़, जागरण संवाददाता। अलीगढ़ के ब्‍लाॅक टप्पल के एक गांव में आठ साल की बच्ची की हत्या के मामले में पुलिस को हत्यारोपितों के करीब पहुंच गई है। गुरुवार रात तक पुलिस ने कई लोगों से पूछताछ की। इसमें कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार को घटना का पर्दाफाश हो सकता है। इसकी तैयारी पुलिस ने कर ली है।

यह है मामला

टप्पल से करीब पांच किलोमीटर दूर स्थित एक गांव में नौकरीपेशा युवक की आठ वर्षीय बेटी सोमवार सुबह करीब आठ बजे स्कूल के लिए निकली थी। करीब साढ़े 11 बजे बच्ची की दादी पशुअों के लिए चारा लेने के लिए खेत पर गई थी। रास्ते में जामुन के पेड़ के नीचे बच्ची का स्कूल बैग व चप्पल पड़ी मिलीं। ग्रामीणों की मदद से तलाश शुरू की गई तो पता चला कि बच्ची स्कूल नहीं पहुंची थी। दोपहर करीब एक बजे बच्ची का शव धान के खेत में मुंह के बल पड़ा मिला। खेत में हल्का पानी भरा था। इसमें मिट्टी होने के चलते बच्ची का 70 प्रतिशत मुंह गारे में धंसा था। लोगों ने आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव नहीं उठने दिया। जैसे तैसे पुलिस ने समझाकर पोस्टमार्टम कराया, जिसमें गला दबाकर हत्या की बात सामने आई। लेकिन, पुलिस की शुरुआती जांच में ऐसा कोई सुबूत नहीं मिला, जिससे केस को कोई दिशा मिले। पुलिस ने स्वजन के अलावा कई लोगों से पूछताछ की। इसमें कुछ लोगों के बयानों में अंतर था, जिससे पुलिस का शक करीबियों पर ही गहरा रहा है। बुधवार को एसपी देहात शुभम पटेल ने फिर से कई लोगों से पूछताछ की। सीओ खैर मनीष कुमार व देहात की एसओजी टीम ने भी टप्पल में डेरा डाले रखा। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, बच्ची की हत्या करने वाले आरोपितों का पता चल गया है। शुक्रवार को पुलिस इसका पर्दाफाश कर सकती है।