अलीगढ़, जागरण संवाददाता। पीएम नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को जेवर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का शिलान्यास के दौरान अलीगढ़ का भी नाम लिया। कहा एयर पोर्ट बनने से अलीगढ़, बरेली, आगरा समेत कई जिलों का लाभ मिलेगा। कारोबार का भी विकास होगा। पीएम की प्राथमिकता में अलीगढ़ शामिल होने पर ताला, हार्डवेयर, आर्टवेयर व अन्य उद्यमी उत्साहित हैं। इस सुविधा से व्यावसायिक और कार्गो परिवहन विमान सेवा में मजबूत होगी। इसके अलावा टीवी धारावाहिक, फिल्म, कला-संस्कृति से जुड़े लोगों को लाभ मिलेगा।

ये होंगे फायदे

देश के विभिन्न राज्यों के एयरपोर्ट व मिनी एयरपोर्ट के लिए फ्लाइट आसानी से मिलेंगी। अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा सुगम होगी। एएमयू में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों के लिए भी यह मुफीद होगा। हज यात्रियों को दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा। अलीगढ़-पलवल मार्ग होते हुए जेवर एयरपोर्ट की दूरी मात्र 70 किलो मीटर है। एक से सवा घंटे के अंतराल में यात्री एयरपोर्ट पर होगा। सबसे अधिक फायदा डिफेंसकारिडोर में निवेश करने वाले कारोबारियों को होगा। डिफेंसकारिडोर खैर के गांव अंडला में बनाया जा रहा है। यहां से यमुना एक्सप्रेस वे अधिक दूर नहीं। यहीं से होकर जेवर जाना और अधिक आसान होगा।

इन बिंदुओं पर होगा फायदा

- नई कंपनियों की स्थापना

- विकसित होगा होटल-रेस्टोरेंट कारोबार

- जमीन के दामों में बढ़ोत्तरी

- निजी व्यवसाय करने का मौका

- विदेश जाने पर समय की बचत

- डिफेंस कारिडोर के निवेशकों को मिलेगा लाभ

एशिया का जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट सबसे बड़ा होगा। यहां से देशभर के राज्यों में उड़ान होने से उद्यमियों को लाभ मिलेगा। दिल्ली एयरपोर्ट में जो समय बर्वाद होता था। विदेशी व्यापारियों का यह समय बचेगा। यहां का औद्योगिक विकास होगा।

- गौरव मित्तल, संयुक्त महामंत्री, लघु उद्योग भारती, उत्तर प्रदेश

जेवर एयरपोर्ट की सुविधा से ट्रासंपोर्ट कारोबार को रफ्तार मिलेगी। इससे समय बचेगा। व्यवसायिक व कार्गो परिवहन विमान की सुविधा से देश- विदेश में ताला, हार्डवेयर, बिजली फिटिंग, गलीचे, बिल्डिंग बिजली फिटिंग उत्पादन की लोडिंग होगी।

- श्रीकिशन गुप्ता, सदस्य, आल इंडिया मोटर ट्रांस्पोर्ट नई दिल्ली

जेवर एयरपोर्ट बनने से अलीगढ़ में भी सांस्कृतिक कार्यक्रमों को बढ़ावा मिलेगा। टीवी व बालीवुड कलाकार का अक्सर आना होता है। इस समय मुंबई से दिल्ली एयरपोर्ट का इस्तमाल किया जाता है। सड़क मार्ग से चार घंटे में सफर होता है। नए एयरपोर्ट बनने से एक घंटे में दूरी तय होगी।

- संजय माहेश्वरी, संरक्षक माहेश्वरी क्रिएटिव क्लब