अलीगढ़ (जेएनएन)। गुजरात के पाकिस्तान बॉडर मिले अलीगढ़ अतरौली के हरपाल के घर में खुशी का माहौल है। हरपाल को लेने के लिए उसके बहनोई गुजरात रवाना हो गए हैं। भाई के मिलने की खबर के बाद से बहनें बेहद खुश हैं और बार-बार गुजरात पुलिस की सराहना और थैंक्स गॉड बोल रही हैं।

घर से छह साल पहले चला गया था हरपाल

अलीगढ़ की तहसील अतरौली के गांव बसई  के रहने वाले हरपाल मूक बधिर हैं। बचपन से ही हरपाल बोल नहीं पाता  था। पत्नी, दो बच्चे और दो बहनों के साथ जीवन यापन कर रहा था। छह साल पहले अचानक एक दिन हरपाल गांव से लापता हो गया। परिजनों ने काफी तलाशा लेकिन उसका कहीं कोई पता नहीं चल सका।

हरपाल की उम्मीद छोड़ चुके थे परिजन

पत्नी और दो बच्चे हरपाल की याद करके उम्मीद छोड़ चुके थे कि वह उनको वापस मिल जाएगा। हरपाल के जाने के बाद पत्नी की पिछले साल मृत्यु हो गई। घूमते-घूमते हरपाल गुजरात में पाकिस्तान बॉर्डर पर पहुंच गया। गुजरात पुलिस ने संदिग्ध अवस्था में उसे पकड़ लिया। पुलिस ने हरपाल से जानकारी करना चाहा तो पता चला कि वह बोल नहीं सकता है।

गूगल मैप से मिली हरपाल के गांव की जानकारी

हरपाल ने लिखकर दे दिया कि वे अतरौली के गांव के बसई का रहने वाला है। इसके बाद गुजरात पुलिस जानकारी करने में जुट गई। पुलिस ने गूगल मैप के माध्यम से उसका गांव व पता खोज लिया। मंगलवार को पुलिस ने अतरौली थाना पुलिस के जरिए फोन पर संपर्क किया। इधर जानकारी मिलने पर घर में खुशी का माहौल छा गया। सूचना मिलने पर हरपाल के बहनोई हरपाल को वापस लाने के लिए गुजरात रवाना हो गए हैं।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस