हाथरस, जागरण संवाददाता। बुखार और डेंगू का प्रकोप अब जानलेवा होता जा रहा है। शनिवार देर शाम पुरदिलनगर में दस और कुरसंडा में डेंगू के आठ केस निकलने के बाद से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। दोनों ही स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने डेरा डाल लिया है। नगर पंचायत की ओर गांवों में कीटनाशक का छिड़काव सफाई कर्मचारियों के जरिए कराया जा रहा है।

बीते पंद्रह दिनों से लगातार बढ़ रहा मरीजों का आंकड़ा

पिछले करीब पंद्रह दिन से बुखार और डेंगू की आशंका के मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। जिले में अब तक आठ लोगों की बुखार के कारण मौत हो चुकी हैं। लगातार स्वास्थ्य विभाग की ओर से शिविर आयोजित करके बीमार लोगों को दवाई उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही डेंगू और मलेरिया के साथ कोविड का टेस्ट बीमार लोगों का कराया जा रहा है। पिछले दिनों कुरसंडा व जरैरा में तीन लोग डेंगू पाजिटिव निकले। उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की ओर से दोनों ही स्थानों पर डेंगू के सैंपल कराए गए। शनिवार देर शाम को कुरसंडा में आठ व पुरदिलनगर में दस लोग डेंगू से संक्रमित पाए गए। दोनों स्थानों पर लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीमें लोगों के सैंपल ले रही हैं। इसके साथ ही जिन लोगों की प्लैटस कम निकल रही हैं। उन्हें चिहि्त किया जा रहा है। शनिवार देर रात तक दोनों पुरदिलनगर व कुरसंडा में टीमें डटी रही। रविवार तड़के गांवाें में कीटनाशक का छिड़काव कराया गया। लगातार डेंगू के केस निकलने के बाद अब ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। जिले में अब तक 21 केस डेंगू पाजिटिव के निकल चुके हैं।

जिलाधिकारी ने स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की बुलाई बैठक

जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में संचारी रोगों के प्रभावी नियंत्रण हेतु संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक बुलाई और स्वास्थ्य विभाग समेत अन्य संबंधित विभाग के अफसरों के पेच कसे।

Edited By: Anil Kushwaha