अलीगढ़ (जेएनएन)। हापुड़ के साधु की अलीगढ़ के खैर क्षेत्र स्थित एक शिव मंदिर में हत्या कर दी गई। हत्यारों ने उनके सिर पर डंडों से प्रहार किए। हत्यारों व हत्या का कारण अभी पता नहीं लग सका है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। वहीं ग्रामीणों में रोष है।

सुबह मिला शव

खैर तहसील क्षेत्र के गांव कीलपुर स्थित पावर ग्रिड के निकट भोले बाबा के मंदिर में कई सालों से 65 वर्षीय बाबा बालक दास उर्फ चंदर पुत्र सुखबीर  सिंह रहते थे। ले इस मंदिर के पुजारी थे। दिनभर वे अकेले यहीं रहते और यहीं सोते थे। रोज की तरह रविवार की रात मंदिर में ही सो रहे थे। सुबह श्रद्धालु मंदिर पहुंचे तो बाबा बालक दास का लहूलुहान पड़ा मिला। सिर से खून निकल रहा है। इसकी जानकारी के बाद मंदिर पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। घटना को लेकर पूरे गांव में आक्रोश उत्पन्न हो गया। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई, जिससे ग्रामीणों ने कार्रवाई की मांग की।

किसी से नहीं था विवाद

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हत्या का कारण अभी पता नहीं लग सका है। इस संबंध में कुछ ग्रामीणों से भी पूछताछ की गई, लेकिन कुछ जानकारी नहीं हो सकी। आसपास के गांवों के लोगों से भी जानकारी की जा रही है। साधु का किसी से विवाद भी नहीं बताया गया है।

अधिकारी पहुंचे मौके पर

हत्या की सूचना पर एसपी देहात, इंस्पेक्टर खैर व कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गया। फोरेंसिक जांच टीम मौके पर साक्ष इकट्ठा कर रही है।

हापुड़ का था साधु

मृतक बाबा बालक दास मूल रूप से हापुड़ के महमूदपुर गुलावठी के थे। वे कई साल पहले यहां आ गए थे और मंदिर में रहने लगे। पुलिस उनके परिजनों से संपर्क करने का प्रयास कर रही है।

Posted By: Mukesh Chaturvedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप