अलीगढ़, जेएनएन। आपरेशन आवारा व निहत्था को अलीगढ़ पुलिस ने हथियार बनाकर ताबड़तोड़ कार्रवाई की है। ढाई माह के अंदर जिलेभर में छह हजार से ज्यादा आरोपितों के खिलाप कार्रवाई की जा चुकी है। इनमें आपरेशन आवारा में पांच हजार लोग जद में आए हैं। रोजाना औसतन डेढ़ सौ से दो सौ लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

ऐसे हुई अभियान की शुरूआत

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मार्च के अंत में जिले का कार्यभार संभाला था। शहर के भ्रमण पर निकले तो सासनीगेट चौराहे पर लोग खुलेआम शराब पीते दिखे। 29 मार्च से एसएसपी ने आपरेशन आवारा की शुरुआत कर दी। इसके तहत उन लोगों पर कार्रवाई की जा रही है, जो शराब पीकर माहौल खराब करते हैं या बेवजह सड़कों पर बाहर निकलते हैं। इसमें अब तक पांच हजार दो सौ लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी। इसके बाद आठ अप्रैल को जिले में आपरेशन प्रहार अमल में आया। इसके तहत वांछित व वारंटियों की धरपकड़ शुरू हुई। इसमें अब तक एक हजार से ज्यादा आरोपित पकड़े जा चुके हैं। औसतन आपरेशन प्रहार में रोजाना 30 से 40 अारोपितों, जबकि आपरेशन आवारा सौ से सवा सौ लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

100 आरोपितों की हिस्ट्रीशीट खुली

एसएसपी ने सभी थानों में पुराने अपराधियों का डाटा खंगालवाया है। इनमें से डेढ़ सवा सौ पेशेवर अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली गई हैं। वहीं 20 हजार 434 अपराधियों का डाटा एप पर अपलोड किया गया है। इनमें छह हजार का सत्यापन भी हो चुका है। इनमें से संगीन मुकदमे वाले अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली जाएगी।