जासं, अलीगढ़ : बारिश तो थम गई, प्रमुख मार्गों से पानी भी उतर गया है। लेकिन, निचले इलाके अभी भी जलभराव से जूझ रहे हैं। सासनीगेट क्षेत्र में भदेशी रोड के निकट नई आबादी विक्रांत कालोनी में बुरे हालात हैं। पूरी कालोनी तालाब बनी हुई है। यहां तीन मकानों की दीवार गिर गईं। कुछ परिवार पलायन कर गए हैं। स्थानीय निवासी अजय आजाद ने बताया कि होली चौक का पानी इधर छोड़ दिया गया है, इसीलिए यह हालात हुए हैं। पंप सेट लगाकर पानी निकालने की मांग की है। शाहजमाल इलाके में पानी उतर गया है। लेकिन, कब्रिस्तान में पानी जमा है। कुर्बानी के अवशेष कब्रिस्तान में फेंकने पर लोगों ने विरोध किया है।

शहर में जल निकासी के लिए नगर निगम की 80 टीमें सक्रिय हैं। नगर आयुक्त प्रेम रंजन सिंह ने बताया कि पिछले दिनों से हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है। कई जगह जलभराव की समस्या भी उत्पन्न हो गई थी। त्वरित कार्रवाई के लिए अधीनस्थ अफसरों के साथ सभी सीवर प्रभारी के नंबर सार्वजनिक किए गए हैं। इन नंबरों पर कोई भी व्यक्ति संपर्क कर सकता है। ये नंबर अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार गुप्त (7042602888), सहायक नगर आयुक्त ठाकुर प्रसाद सिंह (9411090288), महाप्रबंधक जल अनवर ख्वाजा (8218321633), अधिशासी अभियंता जल निगम पंकज रंजन (9557980846), सहायक अभियंता जल लक्ष्मण सिंह (9456210426), अवर अभियंता जल हेमेंद्र गौतम (6396570824), सीवर प्रभारी मुबाशिर आदिल (9105053449), वशिष्ठ मौर्य (9997451666), दिव्यांशु 7906958525), चंदन सिंह 8126663444) के हैं। नगर निगम कंट्रोल रूम (7500441344), कंट्रोल एंड कमांड सेंटर (05712750250) के अलावा वाट्सएप पर सूचना देने के लिए 9568001883 पर संपर्क किया जा सकता है।

.....

बारिश के दौरान कुछ समय के लिए जलभराव प्राकृतिक प्रक्रिया है। नगर निगम अपने सीमित संसाधनों के बल पर दिन-रात जल निकासी के लिए तत्पर है। नागरिकों की सुविधा के लिए वरिष्ठ अधिकारियों के नंबरों को हेल्पलाइन नंबर के रूप में सार्वजनिक किया गया है। नागरिक सीधे इन नंबरों पर जल निकासी के लिए संपर्क कर सकते हैं।

प्रेम रंजन सिंह, नगर आयुक्त