अलीगढ़, जागरण संवाददाता। भाजपा नेता लालजी वर्मा और उनके बेटों के खिलाफ एकतफरा कार्रवाई का आरोप लगा रहे लोधी समाज ने बड़ा ऐलान कर दिया है। समाज के लोगों ने कहा कि लालजी वर्मा को जबतक न्याय नहीं मिलेगा तब तक संघर्ष जारी रहेगा। 28 दिसंबर को मेमड़ी गांव में लोधी क्षत्रिय एम्प्लाइज एसोसिएशन की विशाल जनसभा होगी। वहीं, बैठक में यह कहा गया है कि भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय प्रमुख आरपी सिंह के इशारे पर प्रशासन दबाव में कार्य कर रहा है।

सीएम योगी आदित्‍यनाथ से भी की गयी शिकायत

रविवार को हुई बैठक में लोधी समाज के नेताओं ने कहा कि लालजी वर्मा जनसंघ के समय के नेता हैं। भाजपा से पूरा परिवार जुड़ा हुआ है। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी शिकायत की थी कि उनके जमीन पर महेंद्र प्रताप सिंह उर्फ पिंका कब्जा करने जा रहे हैं। इसके बाद भी प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। लोधी समाज ने आरोप लगाया कि पिंका भूमाफिया हैं, जबकि लालजी वर्मा पर कभी कोई आरोप नहीं लगा है। बैठक में तय किया गया कि 28 दिसंबर को मेमड़ी गांव में विशाल जनसभा होगी। इसमें पूरे जिले से लोधी समाज के लोग एकत्र होंगे। आरपी सिंह के इशारे पर प्रशासन जो कार्रवाई कर रहा है, उसके खिलाफ रणनीति बनाई जाएगी। यदि निर्दोषों को रिहा नहीं किया गया तो आगे ही रणनीति बनाई जाएगी। वहीं, शनिवार को जीटी रोड पर पुलिस-प्रशासन का पुतला फूंकने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी गई थी, मगर लोधी समाज ने न्याय के अंतिम निर्णय तक संघर्ष करने का ऐलान कर दिया। बैठक में बाबू सिंह रवनीर सिंह, कुलदीप सिंह, अमित राजपूत, गीतम राजपूत, योगेश कुमार, गोपी सिंह, डा. ओमपाल सिंह, जय सिंह, नौरंगीलाल, शशि राजपूत आदि मौजूद थे।

पिंका पर कार्रवाई करने की तैयारी में पुलिस

लालजी वर्मा व पिंका पक्ष में हुई फायरिंग के मामले में पुलिस अभी तक दोनों पक्ष के छह लोगों को जेल भेज चुकी है। पिंका का दिल्ली के अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस अब पिंका की गिरफ्तारी की भी तैयारी में है। पुलिस पर एक तरफा कार्रवाई के आरोप भी लग रहे हैं।

इनका कहना है

ये प्रशासनिक कार्रवाई है। इसमें मैं क्या कर सकता हूं? मेरा कहना है कि निर्दोष फंसना नहीं चाहिए और दोषी बचना नहीं चाहिए।

-आरपी सिंह, राष्ट्रीय कार्यालय सचिव भाजपा

Edited By: Anil Kushwaha