हाथरस, जागरण संवाददाता। Negligence : जिले की जिन ग्राम पंचायतों में गली-मोहल्लों के लिए एलईडी लगाई गई हैं वहां दिन में भी सूरज को रोशनी दिखा रही हैं। इस तरह की शिकायतें पंचायती राज निदेशालय लखनऊ तक पहुंचीं तो इस पर नाराजगी जताई गई। पंचायती राज के Additional Chief Secretary Manoj Kumar Singh ने सभी डीपीआरओ को निर्देश दिया है कि ग्राम पंचायतों में लगी एलईडी को वक्त से आन और स्विच आफ कराया जाना सुनिश्चित किया जाए। इसमें कतई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

एलईडी लाइटों में automatic sensor लगाए जाएं : शासन तक सूचनाएं पहुंच रही हैं कि जिन ग्राम पंचायतों में एलईडी लग रही हैं वह दिनभर जलती हुई नजर आती हैं। इस पर गहरी नाराजगी जताई गई है। शासन ने निर्देश दिए हैं कि पंचायतों में स्थापित एलईडी लाइटों में आटोमेटिक सेंसर लगाया जाए।

आटोमेटिक सेंसर लगाए जाने तक शाम को स्विच आन और सुबह स्विच आफ किया जाए, ताकि बिजली की हो रही फिजूलखर्ची को रोका जा सके। उक्त आदेशों को कड़ाई से पालन कराया जाए। लापरवाही बरतने पर संबंधित पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

एलईडी लगाने में दिलचस्पी कम : शासन ने Panchayati Raj Department को निर्देश दिया था कि वह सभी ग्राम पंचायतों के गली-मोहल्लों में एलईडी लाइटें लगवाना सुनिश्चित करें। जो भी एलईडी खरीदी जाएंगी उनके रेट और कंपनियां शासन की ओर से पहले ही निर्धारित कर दी गई हैं।

निर्धारित कंपनियों के अलावा अन्य कंपनियों से एलईडी खरीदकर लगवाई गईं तो उसका भुगतान किसी भी दशा में शासन की ओर से मंजूर नहीं किया जाएगा। मगर बहुत संख्या में ग्राम पंचायतें जहां प्रधान ने एलईडी लगवाई हैं।

Edited By: Anil Kushwaha