हाथरस जेएनएन : देश कोरोना वायरस महामारी के संकट से जूझ रहा है। इसके लिए जनता कफ्र्यू के बाद देश में 21 दिनों का लॉकडाउन किया गया है। भीड़ से बचने के लिए दुकानदारों ने शहर व देहात क्षेत्रों में गोले व सीमाबंदी कर रखी है। एक समय में एक ही ग्राहक को सामान दिया जा रहा है। उनमें समान दूरी की पक्की व्यवस्था की है। जो दुकानदार छूट के समय में ऐसा नहीं कर रहे हैैं उन्हें भी ऐसा करने को कहा जा रहा है।

ग्राहकों के साथ दुकानदारों ने बरती सावधानी

शहर में गुरुवार को लॉकडाउन से पहले बाजारों में लोग सामान लेने के लिए निकले। भीड़ से बचने के लिए ग्राहकों के साथ दुकानदारों ने भी सावधानी बरतनी शुरू कर दी है। इसके लिए अलग-अलग तरीके दुकानदारों द्वारा अपनाए जा रहे हैं। कुछ दुकानदारों ने एक मीटर की दूरी पर दो गोला सफेद या लाल रंग के बना दिए हैं। इन्हीं में से ग्राहकों को बारी-बारी आगे बढऩे और सामान लेकर तुरंत चले जाने को कहा जा रहा है। कुछ दुकानदारों ने फीता अथवा रस्सी बांधकर सीमाबंदी कर दूरी का निर्धारण किया है। ग्राहक भी हड़बड़ी की जगह इंतजार करते हुए सामान खरीद रहे हैं। किसी को परेशानी न हो, इसका भी ध्यान दुकानदारों द्वारा रखा जा रहा है।

रस्सी डालकर गोले बनाए

बिसावर में भीड़ से बचने के लिए सुबह सात बजे से दुकानें खोलकर सामान की बिक्री की गई। यहां भी दुकानों के आगे गोले बनाने के साथ रस्सी डालकर सीमाबंदी भी कर रखी थी। एक साथ केवल दो ग्राहकों को सामान दिया जा रहा था। लॉकडाउन में छूट के निर्धारित समय में इसी तरह व्यवस्थाएं भीड़ को रोकने के लिए दुकानों पर चलेंगी। इसमें एक समय में दो ग्राहक ही दुकान पर सामान ले सकते हैं, वह भी तय दूरी बनाते हुए। 

प्रशासन ने की सराहना

दुकानदारों की इस पहल को पुलिस-प्रशासन ने भी सराहा है। साथ ही अन्य सभी दुकानदारों को इसी प्रकार गोले बनाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा सादाबाद, सासनी, हसायन आदि में भी इस व्यवस्था के चलते दुकानों पर सामान की बिक्री की गई।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस