अलीगढ़ जेएनएन: प्रदेश में पांच साल की संविदा नौकरी से शुरुआत के प्रस्ताव का मंगलवार को कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआइ ने जोरदार विरोध किया। जिलाध्यक्ष हनी यादव के नेतृत्व में रेलवे रोड स्थित जिला कांग्रेस कार्यालय पर इक_ा हुए। प्रस्ताव के खिलाफ नारेबाजी करते हुए योगी सरकार का पुतला फूंका। जिलाध्यक्ष ने कहा कि सरकार जिस नए प्रस्ताव पर विचार कर रही है, उसमें सरकारी नौकरी के पहले पांच साल कर्मचारियों को संविदा पर नियुक्त करने का प्रावधान है। सरकार का कहना है कि पहले पांच वर्ष नए नियुक्त कर्मचारी संविदा के आधार पर काम करेंगे और हर छह माह में उनका असेसमेंट किया जाएगा। यह युवाओं और बेरोजगारों के साथ धोखा नहीं तो क्या है? हैरत की बात ये है कि सर्वोच्च न्यायालय ने पूर्व में ही इस तरह के कानून पर अपनी तीखी टिप्पणी की थी। फिर भी, सरकार यह कानून लाने पर आमादा है। इस मौके पर जिला महामंत्री विकास यादव, जिला उपाध्यक्ष कविल कुमार, सुमित ङ्क्षसह आशु, चौ. अमित यादव, सचिन बालियान, यशवीर, चौ. सुनील ङ्क्षसह, हर्ष ङ्क्षसह, इमरान, ङ्क्षटकू नायक, सागर ङ्क्षसह तोमर, सुरेश लोधी, वीरी ङ्क्षसह बंजारा आदि मौजूद रहे।

17 को बेरोजगार दिवस मनाएं

कांग्रेस नेता आगा यूनुस ने कहा कि दो करोड़ सालाना रोजगार देने की बात करने वाले कोरोना से पहले ही बेरोजगारी दर को 45 साल के सर्वोत्तम पर पहुंचाने का कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं। अनियोजित लॉकडाउन से करोड़ों लोगों का रोजगार छीन लिया। देश की नवरत्न कंपनियों को एक-एक कर बेचा जा रहा है। अब नौकरियों में संविदा की बात कही जा रही है। हम युवाओं का आत्मसम्मान नहीं छीनने देंगे। 17 सितंबर को राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस मनाया जाएगा। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस