अलीगढ़, जागरण संवाददाता। टप्पल क्षेत्र के जट्टारी इलाके में मंगलवार को एक किसान के अपहरण की सूचना ने पुलिस के होश उड़ा दिए। हालांकि रात में किसान सकुशल खुद ही घर लौटे तो पता चला कि लेन-देन के मामले में दूसरे पक्ष के लोग किसान को बातचीत करने के लिए ले गए थे। किसान भी अपनी मर्जी से गया था।

यह है मामला

टप्पल थाना के प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि कस्बा जट्टारी के निकटवर्ती गांव निवासी प्रवीन ने पलवल के कुछ लोगों से रुपये ले रखे थे। इसी लेनदेन के मामले में कुछ लोग सोमवार शाम को स्कार्पियो में गांव आए थे। प्रवीन घर पर नहीं मिला तो उसके पिता दानवीर से बातचीत की। इसके बाद पिता को साथ ले गए। इधर, बेटे ने पुलिस को अपहरण की सूचना दे दी। पुलिस ने लोगों से संपर्क करके दानवीर को सकुशल बरामद किया। इंस्पेक्टर के मुताबिक, लेनदेन के मामले में दानवीर अपनी मर्जी से दूसरे पक्ष के साथ गया था। अपहरण की बात गलत है।

आपदा से धान की नष्ट हुई फसल का लेखपालों ने किया सर्वे

लोधा:रविवार और सोमवार को बिन मौसम के आई वर्षा की आपदा से किसानों के खेतों में पड़ी धान की फसल के साथ साथ आलू और लाहा की फसल को भी भारी नुकसान पहुंच गया किसान फसल को देखकर खून के आंसू रोने लगा और सरकार से कुछ राहत की आस में लग गया बारिस बंद होने के साथ लेखपाल सतीश चंद शर्मा ने लोधा में एवं लेखपाल अनिल भारद्वाज ने गोंडा रोड पर फसलों का सर्वे किया।

गांव राइट में गंदगी का अंबार

गांव राइट की कई गलियों में गंदगी के कारण बीमारियां तो फैल ही रही हैं वहीं तीन दिन की बच्ची का भी शव ले जाने को गंदगी से ही होकर गुजरना पड़ा।

वहीं गांव के उप-स्वास्थ्य केंद्र में भी सफाई व्यवस्था का अभाव रहा।

जागा उप-स्वास्थ्य केंद्र

गांव का उप-स्वास्थ्य केंद्र अक्सर बंद ही रहता है ग्रामीणों के मुताबिक दो दिन से ही स्वास्थ्य केंद्र खुला है लेकिन ग्रामीण गांव के स्वास्थ्य केंद्र से संतुष्ट नहीं हैं वहीं उप-स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात टीएचओ इफतिशा ने बताया कि सोमवार को करीब 120 मरीज देखे गये जिसमें 38 को उपचार दिया गया एवं मंगलवार को 50 मरीजों को उपचार दिया गया है।