हाथरस  (जेएनएन) । नगला अलगर्जी में शुक्रवार देर रात सिरफिरे ने पास के ही घर के आंगन में सो रही कीर्ती सैनी (23) पुत्री बांकेलाल सैनी को मिïट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया। शनिवार सुबह उपचार के लिए आगरा ले जाते समय उसकी मौत हो गई। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

रास्ते में भी तंग करता था युवक
युवती के भाई पवन सैनी ने पड़ोसी उमेश शर्मा के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। इसमें बताया कि उमेश पिछले कई महीनों से कीर्ती को परेशान कर रहा था। फोन करता था और रास्ते में भी तंग करता था। इस संबंध में कई बार उसके परिवार से शिकायत की, लेकिन हरकतें बंद नहीं हुईं। पिछले दो दिन से लगातार फोन कर परेशान किया जा रहा था।

आंगन में सोई हुई थी कीर्ती
रात कीर्ती आंगन में चारपाई पर सोई हुई थी। रात लगभग 12 बजे उमेश दीवार फांदकर घर में घुस आया और मिट्टी का तेल डालकर कीर्ती को आग के हवाले कर दिया। घटना के बाद वह भाग गया। चीख-पुकार सुनकर परिवार के लोग जाग गए। कीर्ती को आग की लपटों से घिरा देख परिजनों के होश उड़ गए। जैसे-तैसे आग पर काबू पाकर उसे जिला अस्पताल लाया गया। परिजन यहां से युवती को अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज ले गए। हालत खराब होने के कारण मेडिकल कॉलेज से दिल्ली ले जाने की सलाह दी गई, लेकिन परिजन उसे तड़के घर ले आए। सुबह लगभग आठ बजे से फिर से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जानकारी पर हाथरस गेट पुलिस फिर से अस्पताल पहुंची। दिल्ली न ले जाने का कारण परिजनों ने आर्थिक तंगी बताया। पुलिस के समझाने पर सुबह नौ बजे उसे आगरा लेकर रवाना हुए, लेकिन रास्ते में कीर्ती ने दम तोड़ दिया।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस