अलीगढ़, जेएनएन। कोरोना के बढ़ते प्रकाेप पर अंकुश लगाने के लिए रविवार की बंदी के बाद अब मंगलवार को भी पूरे शहर में साप्ताहिक बंदी रहेगी। पहली बार पूरे शहर में एक साथ साप्ताहिक बंदी की घोषणा की गई  है। प्रशासन ने इसे सख्ती से लागू कराने की तैयारी कर ली है। आवश्यक सेवाओं के लिए छूट दी जाएगी। सब्जी,दूध की बिक्री के लिए रविवार की तरह की सुबह छह से 11 व शाम पांच से आठ बजे तक छूट मिलेगी। बाकी के सभी दुकानें, शो रूम व बाजार पूरी तरह से बंद रहेंगे। लोगों से भी बेवजह सड़क पर न निकलने की अपील की गई है। 

कोराेना संक्रमण को देखते हुए किया गया बदलाव

सोमवार को डीएम चंद्रभूषण सिंह की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट में कोरोना कंट्रोल रूम की बैठक हुई। डीएम ने कहा कि अब तक शहर में शुक्रवार, बुधवार व मंगलवार को साप्ताहिक बंदी रहती थी, लेकिन बढ़ते कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए बदलाव किया गया है। मंगलवार को पूरे शहर में साप्ताहिक बंदी रहेगी। लोगों से अपील है कि इसका पूर्ण पालन करें। निर्देश दिए कि कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। कोरोना अस्पतालों में बैड की संख्या बढ़ाई जाए। लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। जीवन ज्योति, रूसा हास्पीटल एवं नारायणी हास्पीटल  में इलाज की सभी व्यवस्थाएं करने क लिए भी कहा।

आक्‍सीजन की कालाबाजारी पर रोक लगाएं

मंगलायतन हास्पीटल में कोरोना के मरीज आज से ही भेजें जाएं । आइएमए एक बैठक करके यह तय करे कि निजी  चिकित्सालयों में कुल कितने बैड हैं। आइसीयू बैड की उपलब्धता भी बताई जाए। डीएम ने कहा कि ये भी पता चला है कि आक्सीजन की कालाबाजारी हो रही है। यह गंभीर मामला है। अगर कहीं भी इस तरह की बात सामने आती है तो संबंधित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।  आक्सीजन की जिले में कोई कमी नहीं हैं। दवाओं के स्टाक की रिपोर्ट नोडल अधिकारी लेते रहें बांट माप विभाग व डीएसओ कालाबाजारी पर अभियान चलाएं। अगर बाजार में कहीं भी ऐसी शिकायत आती है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई करें। साप्ताहिक बंदी में आवश्यक सेवाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इस मौके पर सीडीओ समेत अन्य मौजूद रहे।

Edited By: Anil Kushwaha