अलीगढ़, जागरण संवाददाता।  विधानसभा चुनाव से जुड़ी शिकायत व अन्य मामलों के निस्तारण के लिए कलक्ट्रेट में संचालित कंट्रोल रूम अब खाना पूर्ति में सिमट गया है। 69 दिनों में यहां महज चार शिकायतें आई हैं। प्रचार-प्रसार के अभाव में लोगों को यहां के नंबरों तक की जानकारी नहीं है। वहीं, जिम्मेदार अफसर भी इस पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। कंट्रोल रूम के लिए नियुक्त किए गए सहायक प्रभारी अधिकारी भी अपना पूरा समय यहां नहीं देते हैं। अधीनस्थों के ऊपर ही कार्यालय को छोड़ दिया जाता है। कुछ घंटे के लिए ही यह अफसर आते हैं। वहीं, आनलाइन भी इस समय अवधि में 111 शिकायतें दर्ज हुई हैं। इनमें भी अधिकांश वोटर आईडी कार्ड से जुड़ी हैं।

10 मार्च को आएगा परिणाम

जिले के 27.64 लाख मतदाता इस बार 10 मार्च को सात विधायकों का चुनाव करेंगे। इसको लेकर प्रशासनिक तैयारियां जाेरों पर चल रही हैं। कलक्ट्रेट के कमरा नंबर छह में चुनाव से जुड़ी शिकायत व सुझाव दर्ज कराने के लिए कंट्रोल रूम संचालित हैं। नौ नवंबर को इसकी शुरुआत हुई थी। 24 घंटे के लिए तीन अलग-अलग पालियों में जिला स्तरीय अफसर सहायक प्रभारी बनाए गए। हर पाली में पांच-पांच अन्य कर्मियों की तैनाती हुई। अब इस कंट्रोल रूम को संचालित हुए 69 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अब तक महज चार शिकायतें ही कंट्रोल रूम के फोन पर आई हैं। यह भी सभी वोटर आईडी कार्ड से जुड़ी हुई हैं।

अफसर भी नहीं ले रहे दिलचस्पी

भले ही निर्वाचन विभाग ने कंट्रोल रूम के लिए जिला स्तरीय अफसरों को सहायक प्रभारी बनाया गया हो, लेकिन अफसर इसमें ज्यादा दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। कुछ घंटे के लिए अफसर यहां आते हैैं और समय पूरा होने से पहले ही अधीनस्थों के ऊपर कार्यालय छोड़ कर जाते हैं। कर्मचारियों पर भी ज्यादा काम नहीं होता है।

इन नंबरों पर दर्ज कराएं शिकायत

अगर आपको भी चुनाव से जुड़ी कोई शिकायत व सुझाव दर्ज कराना है तो वह 2420141, 2420151, 1950 पर दर्ज कराई जा सकती हैं। 24 घंटे यह नंबर संचालित रहते हैं। आचार संहिता उल्लंघन से जुड़ी शिकायत भी इन नंबरों पर दर्ज कराई जा सकती हैं।

शिकायत का 100 मिनट में निस्तारण होगा

अगर आपके क्षेत्र में आचार संहिता का उल्लंघन होता देख फोटो खींचकर या दो मिनट का वीडियो बनाकर सी-विजिल एप पर कोई भी अपलोड कर सकते हैं। इसके बाद प्रशासन को केवल 100 मिनट में उस शिकायत का निस्तारण करना होगा।

Edited By: Anil Kushwaha