अलीगढ़ (जेएनएन)। क्वार्सी थाना क्षेत्र में रामघाट रोड पर वरुण ट्रोमा के बाहर स्लिप न होने से एक बुजुर्ग की नाले में गिर कर मौत हो गई। पांच दिन पहले एक मासूम की नुमाइश मैदान में गड्ढे में गिरकर मौत हुई थी। इस हादसे के बाद भी प्रशासन ने कोई सबक नहीं लिया।

ऐसे हुआ हादसा

जीवनगढ़ की गली नंबर तीन निवासी  फसाहत अली (58) ढलाई का काम करते थे। वे अविवाहित थे। इनके भतीजे रफत अली के मुताबिक शाम को वह घूमने के लिए गए थे। रात साढ़े नौ बजे इनकी मौत की खबर मिली। पुलिस के मुताबिक फसाहत मोबाइल पर बात करते हुए जा रहे थे, तभी पैर फिसलने से नाले में जा गिरे।

दो स्लीपर के बीच में थी जगह

जिस जगह हादसा हुआ, वहां नाले पर एक स्लीपर नहीं था। चौड़ाई करीब दो फीट होगी, यहीं से वह नाले में समा गए। खबर पाकर क्वार्सी पुलिस और फिर दमकल पहुंच गई। जेसीबी से आसपास लगी सीमेंट की स्लिप हटाकर नाला खंगाला गया। करीब एक घंटे मशक्कत करने के बाद शव ही बाहर निकाला जा सका। नाला 12 फीट गहरा बताया जा रहा है। खास बात यह है कि इस तरह के खुले हुए नाले शहर में अनेक जगहों पर हैं, लेकिन अधिकारियों का ध्यान इस ओर नहीं हैं। सप्ताह में एक दो नाले में गिरकर घायल होने की घटनाएं होती रहती हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस