अलीगढ़ [जेएनएन]। 'अपना घर' हर व्यक्ति का सपना होता है। घर छोटा हो या बड़ा, उसमें सब सुविधाएं जरूर हों। इसके लिए पैसे के साथ बड़ा इरादा भी होना चाहिए। बहुत से लोग यह सब होने के बाद भी सही जानकारी के अभाव में मानकों के हिसाब से घर नहीं बन पाते। कुछ साल बाद ही समस्याएं शुरू हो जाती हैं। कहीं दरार पड़ जाती हैं तो कहीं सीलन आने लगती है। ऐसे ही लोगों के सपनों को साकार करने के लिए सारसौल स्थित जंक्शन-फंक्शन मैरिज होम में आयोजित 'बात घर की' शिविर में विशेषज्ञ सही जानकारी दे रहे हैं। वे ये भी बता रहे हैं कि कितने दायरे के मकान में कितना पैसा खर्च होगा। अल्ट्राटेक सीमेंट व दैनिक जागरण के इस कार्यक्रम की शुरुआत शनिवार सुबह 10 बजे हुई। इसमें मकान बनाने से जुड़े सभी पहलुओं पर जानकारी दी गई। दूरदराज से आए लोगों को विशेषज्ञों ने बताया कि बजट के हिसाब  से प्लानिंग करें तो घर बनाने में असुविधा नहीं होगी। 

वीडियो से समझा तरीका

लोगों को वीडियो के जरिये घर बनाने से जुड़े सात पड़ावों की जानकारी दी गई। बताया गया कि खुद का घर बनाना लंबा सफर है।  सफर की शुरुआत कहां से करें और कैसे चरणबद्ध तरीके से पूरा करते हुए गृह प्रवेश तक पहुंचें। घर में रहने के लिए क्या इंतजाम करें, इस बारे में भी बताया गया। सात स्टाल भी लगाए गए, जिन पर विशेषज्ञों ने घर बनाने के अलग-अलग पड़ाव की जानकारी दी।

रजिस्ट्रेशन पर कूपन

शिविर में आने वाले लोगों को रजिस्ट्रेशन करने के साथ कूपन व ब्रोशर दिए गए। कूपन के अलग-अलग खंडों को सभी स्टाल पर जमा कर लिया गया। इनका लकी ड्रॉ निकलेगा। शाम तक शिविर में लोगों का आना-जाना लगा रहा। लकी ड्रॉ को लेकर लोगों में उत्सुकता देखी गई। फोटो सेशन भी हुआ। इसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

आज भी मौका, करें संपर्क

रविवार को भी शिविर चलेगा। आपके पास भी इसमें शामिल होने का मौका है। सुबह 10 से शाम सात बजे तक कोई भी शिविर में शामिल हो सकता है। सभी को लकी ड्रॉ में शामिल होने का मौका मिलेगा। प्रमुख लोगों को सम्मानित भी किया जाता है। कार्यक्रम से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए मोबाइल नंबर 7500168338 पर संपर्क कर सकते हैं।

सवाल-जवाब भी

शिविर में सवाल-जवाब भी खूब हुए। नुक्कड़ नाटक के जरिये कलाकर गृह निर्माण संबंधी जिन बिंदुओं को प्रदर्शित कर रहे थे, सवाल उन्हीं पर पूछे गए। कुछ ने गुणवत्ता की परख को लेकर सवाल किए। सही जवाब देने वालों को पुरस्कृत किया गया।

ये रहीं शिविर की मुख्य बातें

- घर कितना बड़ा होना चाहिए, कितने कमरे होने चाहिए।

- हमारे पास उतना बजट है कि नहीं, इसकी प्लानिंग होनी चाहिए।

- बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में ऊंचाई पर मकान बनवाना चाहिए।

- प्राधिकरण क्षेत्र से नक्शा अनिवार्य रूप से पास कराएं।

- सही प्लानिंग के लिए इंजीनियरों से सलाह लेें। वह नई तकनीक बताएंगे।

- मकान में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम होना जरूर लगवाएं।

- सही बीम, समतल ईंट, ब्रांडेड निर्माण सामग्री का चयन करना चाहिए।

ये थे सात पड़ाव

प्लानिंग, प्लॉट का चुनाव, बजट, टीम का चयन, निर्माण सामग्री कैसा इस्तेमाल कर रहे हैं, पर्यवेक्षण और गृह प्रवेश।

इन्हें किया सम्मानित

रायपुर देहली के प्रधान मनोज कुमार सिंह, दीनापुर प्रधान ओमपाल यादव, ल्हौसरा प्रधान रहीसपाल, अटलपुर प्रधान बच्चू सिंह, खेडिय़ा प्रधान बनी सिंह, आनंद बघेल, भूपेंद्र कुशवाह, अर्जुन सिंह भोलू, सौरभ चौधरी, अमित गोस्वामी, शनी यादव, मनोज कुमार ढालू, सुरेंद्र शर्मा, त्रिलोकीनाथ गौड़, आशीष पॉल आदि।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस