अलीगढ़, जागरण संवाददाता। हकीकत हैरान करने वाली है। अगस्त में भी जिले में कोरोना के कई मामले आए थे। सासनीगेट क्षेत्र के खिरनीगेट में एक ही परिवार में मां-बेटे समेत तीन लोग संक्रमित पाए गए थे। स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम की टीम ने इन्हें होम आइसोलेशन में रखा था, लेकिन विभागीय अफसर जनता से इन आंकड़ों को छिपाए रहे। संक्रमित लोगों के संपर्क वालों की समय से सैंपलिंग तक नहीं की गई। परिवार के लोगों ने जिला स्तर से लेकर सीएम हेल्पलाइन तक कई बार फोन किए, तब जाकर संपर्कियों की सैंपलिंग कराई गई। अब सब ठीक हैं।

मुंबई में रहता है परिवार

सासनीगेट क्षेत्र के खिरनीगेट का एक परिवार मुंबई रहता है। पिछले दिनों यह परिवार मुंबई से अलीगढ़ वापस आ रहा था। इसी दौरान मथुरा रेलवे स्टेशन पर परिवार के सभी सदस्यों की जांच हुई। इसमें एक 40 वर्षीय महिला संक्रमित मिली। मथुरा के अफसरों से यह डाटा अलीगढ़ प्रशासन को भेज दिया गया। संक्रमित महिला भी मथुरा से अपने सासनीगेट स्थित घर में आकर क्वारंटाइन हो गईं। महिला के स्वजनों ने कंट्रोल रूम में इसकी जानकारी दी। मांग की कि परिवार के अन्य लोगों की भी जांच कराई। महिला के स्वजन का दावा है कि दो दिन तक टीम ही नहीं पहुंची। तीसरे दिन टीम आई तो परिवार के सभी सदस्यों का सैंपल लिया गया। इसमें महिला का एक बेटा व भतीजा भी संक्रमित मिले। दो सितंबर को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने घर जाकर इन सभी को होम आइसोलेशन में कर दिया। मकान के सामने पर्चा भी चस्पा किए। आरोप है कि तीन लोगों के संक्रमित मिलने के बाद भी अन्य संपर्कियों के सैंपल तक नहीं भरे गए।

मेरे परिवार के तीन लोग पिछले दिनों कोरोना संक्रमित हुए थे। मदद के लिए कंट्राेल रूम से लेकर सीएम हेल्पलाइन तक फोन किए गए गए थे। तब कहीं जाकर दो दिन बाद टीम जांच को पहुंची थी। अब सभी लोग पूर्ण स्वस्थ हैं।

-मुखिया, पीड़ित परिवार, खिरनी गेट

मेरे संज्ञान में ऐसा कोई भी मामला नहीं हैं। हो सकता है कि एंटीजन जांच में संक्रमित मिले हों। इसी आधार पर टीम भेजी गई हो। जांच कराई जाएगी।

डा. आनंद उपाध्याय, सीएमओ

संक्रमित के 167 संपर्कियों के भरे गए सैंपल

एडीए के 54 वर्षीय व्यक्ति के संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अफसर अलर्ट हो गए हैं। अधिक से अधिक संपर्कियों के सैंपल भरे जा रहे हैं। गुरुवार को 167 संपर्कियों के सैंपल भरे गए। इसमें संक्रमित व्यक्ति से जुड़े स्कूल के शिक्षक-शिक्षकाओं के साथ ही स्वजन के भी सैंपल भरे गए। अब इन सभी की शनिवार तक आरटीपीसीआर जांच के परिणाम आ जाएंगे। सीएमओ ने बताया कि संक्रमित मामला आने के बाद सभी टीमों को फिर से सक्रिय कर दिया गया है।