हाथरस, जागरण संवाददाता। रविवार को जनपद के 14 परीक्षा केंद्रों पर उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा(टीईटी) हुई। परीक्षा में निर्धारित समय पर न पहुंचने पर कई केंद्रों पर अभ्यर्थी आक्रोशित हो गए। देरी से आए एक अभ्यर्थी ने बागला कालेज का गेट कूदकर परीक्षा दी, लेकिन अन्य अभ्यर्थी परीक्षा से वंचित रह गए। उन्होंने ड्यूटी पर तैनात अफसरों को भी घेर लिया। इस दौरान कई अभ्यर्थी मनुहार करते रहे लेकिन नियमों से बंधे अफसरों का दिल नहीं पसीजा। इस कारण कुछ अभ्यर्थी परीक्षा से वंचित होने पर रोने लगे। उसमें एक अभ्यर्थी बेहोश भी हो गई।

बिना मास्‍क के प्रवेश नहीं दिया

दो चरणों में होने वाली इस परीक्षा के लिए शहर में 13 और सासनी में एक परीक्षा केंद्र बनाए थे। इसमें 11 हजार 277 अभ्यर्थियों को भाग लेना था। समय पर परीक्षा में भाग लेने के लिए आधा घंटे पहले अभ्यर्थियों को बुलाया गया था। कोरोना की गाइड लाइन के पालन करने के लिए बिना मास्क के किसी अभ्यर्थी को अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया। शांतिपूर्वक परीक्षा कराने के लिए हर सेंटर पर एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट व अतिरिक्त फोर्स लगाया गया।

Edited By: Sandeep Kumar Saxena