जासं, अलीगढ़ : सासनीगेट क्षेत्र में एडीए पुलिस चौकी मार्ग पर बने मिनी एमआरएफ सेंटर (डलावघर) से बुधवार को सुबह ही कूड़ा उठा लिया गया। डलावघर के आसपास जमा गंदगी का ढेर भी हटाकर चूना डाला गया। यहां की ताजा तस्वीर अन्य दिनों से बिल्कुल अलग थी। साफ-सफाई देख क्षेत्रीय लोगों ने राहत सांस ली। कह रहे थे कि हर रोज ऐसी ही तस्वीर देखने को मिले। एटूजेड कंपनी की टीम ने उन्हें भरोसा दिलाया है। दैनिक जागरण को ये मुद्दा उठाने के लिए धन्यवाद कहा।

नगर निगम ने एडीए पुलिस चौकी मार्ग पर डलावघर स्थापित कराया है। आसपास क्षेत्र का कूड़ा सफाई कर्मचारी यहीं डालते हैं। एटूजेड कंपनी के वाहन यहां से कूड़ा उठाकर निस्तारण के लिए मथुरा रोड स्थित प्लांट में ले जाते हैं। क्षेत्रीय लोगों की शिकायत थी कि डलावघर से कूड़ा दोपहर के समय उठता है। डलावघर के बाहर भी कूड़े का ढेर लगा रहता है, जो उठाया नहीं जाता। इससे नालियां चोक हो गई हैं। तेज हवा चलने से कूड़ा सड़क पर बिखर जाता है। दुर्गंध से बुरा हाल है। जागरण आपके द्वार कार्यक्रम के तहत दैनिक जागरण ने इस समस्या से जुड़ी खबर बुधवार के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित की। नगर निगम और एटूजेड प्रबंधन हरकत में आ गया। सुबह साढ़े नौ बजे ही एटूजेड कंपनी की टीम मौके पर पहुंच गई और साफ-सफाई में जुट गई। डलावघर के अंदर से कूड़ा तो उठा ही, बाहर लगा कूड़े का ढेर भी हटा दिया गया। सड़क पर बिखरा कूड़ा झाड़ू लगाकर साफ किया, फिर जगह-जगह चूना डाला गया। साफ-सफाई होती देख क्षेत्रीय लोग भी आ गए और एटूजेड की टीम से इसी तरह नियमित सफाई का अनुरोध किया। टीम लीडर मोनू दीवान ने लोगों को इसके लिए भरोसा दिलाया है और यह भी कहा कि डलावघर से कूड़ा उठने के बाद पुन: कूड़ा न डाला जाए।

Edited By: Jagran