अलीगढ़ [जेएनएन]। पूर्व सांसद बिजेन्द्र सिंह ने कहा कि जिले के मुखिया डीएम व एसएसपी अधीक्षक सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को अमल में लाकर सत्ताधारी पार्टी के नेता अन्य जनप्रतिनिधियों की लालबत्ती और हूटरों पर रोक लगाएं। संविधान में प्रदत्त कानून की अनदेखी हो रही है।

कानून का उड़ रह है मजाक

मंडलायुक्त अजयदीप सिंह को पत्र सौंपते हुए पूर्व सांसद ने कहा कि संविधान की कसम खाकर सत्ता के नशे में कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं। बेबस पुलिस बिना प्रोटोकॉल के सरकारी गाड़ी लेकर दौड़ रही है। सत्ताधारी पार्टी के नेता अन्य जनप्रतिनिधियों की लालबत्ती और हूटरों पर रोक लगाएं। संविधान में प्रदत्त कानून की अनदेखी हो रही है। सांसद सतीश गौतम व दूसरे प्रतिनिधि सरकारी कार्यों में हस्तक्षेप कर साथ जिला एवं मंडल के प्रशासन व कोर्ट के कार्यों में भी हस्तक्षेप कर रहे हैं।

सांसद अपने पद की गरिमा बनाए रखें

सासंद अपने पद की गरिमा बनाए रखे, किसी जाति विशेष का नाम लेकर अपमानित करने की कोशिश न करें अन्यथा जनपद में कभी भी शांति भंग हो सकती है। कहा, कि यहां के कारनामों के कुछ काले चि_े मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पहुंचाएंगे।

प्रतिनिधिमंडल में ये रहे शामिल

प्रतिनिधिमंडल में आरके सिंह, एके चौहान, आसिफ  खान, रामेश्वर दयाल शर्मा, हरिपाल सिंहस एमपी सिंहस बीरबल सिंह, शंकर सिंह, विजयभान सिंह मौजूद रहे।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस