हाथरस : पूर्वमंत्री व सादाबाद विधायक रामवीर उपाध्याय ने कहा कि वह पूरी तरह स्वस्थ हैं। उनके समर्थक किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान न दें। वह जल्द ही विधानसभा व जिले की जनता के मध्य तेजी के साथ फिर से काम करेंगे।

रामवीर रविवार को लेबर कालोनी स्थित आवास पर पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बसपा के शासन में कभी भी एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं हुआ। जो भी दोषी रहा उसे बख्शा नहीं गया। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जिला सृजन से लेकर अस्पताल, अधिकारियों के आवास, बिजली के कार्य बसपा के शासन काल की देन हैं। उसके बाद सपा, भाजपा की सरकारें आईं और कई मुख्यमंत्री भी बने, लेकिन इस शहर को क्या मिला, यह सभी जानते हैं। उन्होंने कहा कि आज के समय में जिले में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं की जरूरत है। यहां पर डाक्टरों की बढ़ोत्तरी करने के साथ ही संसाधनों में इजाफा किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज ओडीएफ का दावा किया जा रहा है लेकिन हकीकत में देखा जाए तो आज दस फीसद शौचालय भी जिले में नहीं बने हैं। जिन शौचालयों की कीमत शासन ने 12 हजार रुपये निर्धारित की है, उसमें इजाफा किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग अपने निजी फायदे के लिए गलत अफवाह फैला रहे हैं। मैं पूरी तरह से स्वस्थ्य हूं। शीघ्र ही क्षेत्र में अपने समर्थकों से मिलूंगा। समर्थक गुमराह न हों। हकीकत को समझने की कोशिश करें। इस दौरान पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विनोद उपाध्याय भी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran