अलीगढ़, जेएनएन। प्रदेश में मानसून ने दस्‍तक दे दी है। कुछ दिनों तक मौसम ठीक रहने के बाद लोगों को मई और जून की गर्मी का अहसास होने लगा है। तेज धूप और उमस से लोग परेशान हो रहे हैं। आसमान में बादलों की आवाजाही लगी है लेकिन बारिश न होने से मौसम में उसम बनी हुयी है जिससे लोगों को जीना मुहाल हो गया है। लोग आसमान की ओर आस भरी नजरों से देख रहे हैं। वहीं किसान भी आसमान की ओर टकटकी लगायेे हुए है। बारिश न होने की वजह से धान की रोपाई प्रभावित हो रही है।  

धान की रोपाई नहीं हो पा रही

सुबह शाम मौसम में थोड़ी नरमी है लेकिन दिन चढ़़ने के साथ ही गर्मी अपनी रंगत पर आ जाती है। सूर्यदेव भी अपना प्रचंड रूप दिखाने लगते हैं।  बीते कई दिनों से तापमान के साथ गर्मी भी बढ़ रही है। हालांकि, मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि कुछ दिन में गर्मी से थोड़ी राहत मिलेगी। गर्मी से राहत के लिए लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं, ताकि तापमान में कमी आए और गर्मी राहत मिल सके। किसान भी बारिश का इंतजार कर रहे हैं। दरअसल, धान की नर्सरी तैयार होने के बाद रोपाई शुरू हो गई है। इसके लिए भरपूर पानी चाहिए। नलकूपों से पानी की पर्याप्त आपूर्ति नहीं हो पाती। लागत अधिक आती है, बिजली न आने की समस्या भी है। ज्यादातर किसान बारिश पर भी निर्भर हैं। बारिश जल्द न हुई तो धान की पौध सूखने या रोगग्रस्त होने का डर है।

Edited By: Anil Kushwaha