अलीगढ़, जागरण संवाददाता। भाजपा किसान मोर्चा ने ट्रैक्टर रैली निकालकर यह दावा किया है कि किसान भाजपा के साथ है। वह सभी दलों की दोहरी राजनीति को जान चुका है। इसलिए पूरे प्रदेश में किसान भाजपा के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। आगामी विधानसभा चुनाव में भी किसान भाजपा के साथ खड़ा दिखाई देगा। किसानों की ताकत को देखकर विपक्ष के भी होश उड़ गए। 

भाजपा किसान मोर्चा जिला और महानगर की ओर से ट्रैक्टर रैली निकाली गई। नुमाइश मैदान से निकाली गई इस ट्रैक्टर रैली में किसानों का हुजूम था। नुमाइश मैदान गांव में तब्दील हो गया था। किसानों के ट्रैक्टर से खचाखच भरा हुआ था। हर कोई हतप्रद था कि आखिर इतनी संख्या में किसान ट्रैक्टर लेकर कहां से आए। किसानों ने एक साथ हुंकार भरा। किसानों ने कहा कि वह केंद्र सरकार के साथ हैं। किसान हमेशा देश के लिए मर मिटने वाला रहा है, राष्ट्रवादी विचारधारा से ओतप्रोत रहता है, ऐसे में वह देशहित के साथ ही खड़ा रहना चाहता है। यह काम सिर्फ भाजपा कर रही है। भाजपा किसान मोर्चा के क्षेत्रीय अध्यक्ष प्रशांत पोनिया ने कहा कि कई महीनों से किसानों को बरगलाया जा रहा था, देश विरोधी ताकतों द्वारा फंडिंग की जा रही थी, किसानों की आड़ में गलत तरीके से आंदोलन चलाया जा रहा था। देश को कमजोर करने वाली कुछ ताकतें थीं, जो यह सब साजिश कर रही थीं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐसे समय में बड़ा दिल दिखाया। उन्होंने तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया। पीएम ने यह साबित कर दिया कि किसानों के हित से बड़ा कोई हित नहीं है। इसकी पूरे देश में सराहना भी हुई। प्रशांत पोनिया ने कहा कि देशहित में पीएम का यह बड़ा कदम था, आगे हम प्रभावी रणनीति बनाएंगे। भाजपा किसानों का कभी नुकसान नहीं होने देगी।

विपक्ष ने हमेशा किया छलावा

जिलाध्यक्ष चौधरी ऋषिपाल सिंह ने कहा कांग्रेस, सपा, बसपा के पास झूठ के अलावा कुछ नहीं है। इन दलों ने किसानों के साथ हमेशा छलावा किया है। यदि किसानों का हित किया होता तो 70 साल में किसानों की स्थिति बदल गई होती। किसानों को तमाम समस्याओं से जूझना नहीं पड़ता। पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम याेगी आदित्यनाथ विकास के पक्षधर हैं, जबकि विपक्ष सिर्फ विरोध का पक्षधर है। वह अच्छी बातों को भी स्वीकार नहीं करना चाहता है। किसानों को बरगला कर अपनी राजनीति करना चाहता है। मगर, किसान अब भटकने वाला नहीं है, वह भाजपा के साथ है।

किसान मोर्चा के क्षेत्रीय महामंत्री कुलदीप चौधरी ने कहा कि ट्रैक्टर रैली से यह साबित हो गया है कि किसान भाजपा के साथ है। वह आंदोलन के पक्ष में कभी नहीं रहा है। दिल्ली में कुछ लोग धरने पर बैठ गए तो उसे आंदोलन कतई नहीं कहा जा सकता है। क्षेत्रीय मंत्री उमेश चौहान ने कहा कि भाजपा राष्ट्रवादी विचारधारा वाली पार्टी है। इसलिए वह किसान, गरीब, मजदूर, नौजवान सभी के हित की बात करती है। पिछली सरकारों में किसान आत्महत्याएं करते थे, भाजपा ने रोकने का काम किया है।

किसानों की दिल जीत लिया

कोल विधायक अनिल पाराशर ने कहा कि बड़ी संख्या में एकत्र होकर किसानों ने दिल जीत लिया। प्रधानमंत्री किसानों के दर्द को अच्छी तरह से समझते हैं, वह कभी किसानों के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। छर्रा विधायक ठा. रवेंद्र पाल सिंह ने कहा कि ट्रैक्टर रैली में बड़ी संख्या में किसान शामिल हुए, उन्होंने यह बताने की कोशिश की है कि वह राष्ट्रवादी विचारधारा के साथ खड़े हैं। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष ने भी रैली में शामिल किसानों का अाभार जताया। उपाध्यक्ष किसान मोर्चा सुधीर चौधरी, पूर्व जिला अध्यक्ष ठाकुर गोपाल सिंह, चौधरी नत्थी सिंह ने भी संबोधित किया। संचालन नरेश चौहान ने किया। किशनवीर सिंह, सुखबीर सिंह राघव, दलवीर सिंह, शीलू ठाकुर, देवेंद्र पचौरी, प्रेम प्रकाश, गजेंद्र, जिला मंत्री हरवीर सिंह सोलंकी, प्रमोद चौहान, सत्यकांत भारद्वाज, नरेंद्र वर्मा आदि मौजूद थे।

इनका रहा विशेष सहयोग

रैली को सफल बनाने में किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विनोद सारस्वत, महानगर अध्यक्ष ठा. राकेश कुमार सिंह और प्रवक्ता देवेंद्र पचौरी का विशेष योगदान रहा। विनोद सारस्वत ने कहा कि जब टीम भावना से कार्य होता है तो परिणाम बेहतर होता है। गांव के किसानों ने शहर में आकर यह साबित कर दिया कि वह मोदीजी के साथ हैं। ठा. राकेश सिंह ने कहा कि किसान इतनी बड़ी संख्या में मौजूद होंगे उन्हें पता नहीं था। किसानों के स्नेह से आंखे भर आईं। देवेंद्र ने कहा कि चुनाव में किसानों की बड़ी भूमिका रहेगी। हम गांव-गांव जाकर केंद्र और प्रदेश सरकार की नीतियों को बताएंगे। किसानों को भाजपा के साथ खड़ा करेंगे।

Edited By: Sandeep Kumar Saxena