अलीगढ़, जागरण संवाददाता। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने शुक्रवार को दशहरा पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व केंद्रीय मंत्रियों के पुतले फूंकने का आह्वान किया है। एसकेएम में शामिल किसान संगठन गांव-गांव पुतले फूंकेंगे। एसकेएम के इस आह्वान से प्रशासन सर्तक हो गया है।

यह है रणनीति

संयुक्त किसान माेर्चा के जिला संयोजक शशिकांत के मुताबिक लखीमपुर खीरी प्रकरण में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र की बर्खास्तगी न होने के विरोध में दशहरा पर पुतले फूंके जाएंगे। इंटरनेट मीडिया पर 16 अक्टूबर को पुतला फूंकने की सूचना प्रसारित की गई थी, जिससे भम्र की स्थिति पैदा हो रही है। प्रदेश नेतृत्व ने दशहरा पर ही जिलास्तर पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, अजय मिश्र, नरेंद्र सिंह तोमर के पुतले फूंकने का निर्णय लिया है। किसान संगठनों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि भाजपा नेताओं के घर के सामने पुतले न फूंके जाएं, न नारेबाजी हो। झगड़ा होने की संभावना होने पर भी पुतले न फूंके जाएं। जिन गांवों में किसान संगठनों का वर्चस्व है, पुतले वहां फूंके जाएं।

रेल रोकेगा भाकियू (स्वराज)

अलीगढ़ : भाकियू ( स्वराज) के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने बताया कि संगठन ने 16 अक्टूबर को पीएम, सीएम व अन्य मंत्रियों के पुतले फूंकने का निर्णय लिया है। वहीं, 18 अक्टूबर को अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर रेल को रोककर लखीमपुर खीरी की घटना का विरोध जताया जाएगा।

समाज को नई दिशा देगा सम्मेलन

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा भी 17 अक्टूबर को रामलीला मैदान में विययादशमी पर्व मनाएगा। गुरुवार को महानगर अध्यक्ष नेम सिंह सोलंकी के आवास पर हुई बैठक में कार्यक्रम की तैयारी को लेकर चर्चा हुई। जिला अध्यक्ष डा. शैलेंद्र पाल सिंह ने बताया की 17 अक्टूबर को सुबह 10:30 बजे विजयादशमी पर्व के उपलक्ष्य पर विशाल क्षत्रिय सम्मेलन आयोजित किया गया है। जिसमें मेधावी छात्र-छात्राओं, बुजुर्गों, समाजसेवियों एवं समाज के कर्मठ युवाओं को सम्मानित किया जाएगा। अध्यक्षता महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेंद्र सिंह तवर एवं युवराज अम्बरीश पाल सिंह करेंगे। मुख्य वक्ता डा. धीरेंद्र प्रताप सिंह करेंगे। मुख्य अतिथि श्रम एवं निर्माण परामर्शदात्री समिति के अध्यक्ष ठा. रघुराज सिंह होंगे। जिला अध्यक्ष युवा सौरभ तोमर ने बताया कि अलीगढ़ क्षत्रिय रत्न, महाराणा प्रताप रत्न, क्षत्रिय भूषण रत्न से समाज के लोगों को सम्मानित किया जाएगा। जिला अध्यक्ष वीरांगना ममता राघव ने बताया कि यह कार्यक्रम समाज को नई दिशा देगा। बैठक की अध्यक्षता जिले के वरिष्ठ महासचिव राजकुमार सिंह ने की। राकेश ठाकुर, नरेंद्र प्रताप सिंह, गिरीश सिंह, डैनी ठाकुर, योगेंद्र सिंह, डा. अनूप यादव, विवेक प्रताप सिंह, बंटी ठाकुर, कष्ण ठाकुर आदि थे।