अलीगढ़, जेएनएन। क्रय केंद्रों पर गेहूं लेकर पहुंच रहे किसान तौल न होने पर मायूस हैं। टाेकन मिलने के बाद भी उनका गेहूं नहीं खरीदा जा रहा। गुरुवार को धनीपुर मंडी में क्रय केंद्रों का जायजा लेने गए सपा नेताओं ने किसानों का दिलासा दिया। अधिकारियों से वार्ता कर उनकी पीड़ा से अवगत कराया। इस दौरान तौलाई में अनियमितता भी पकड़ी। इसकी भी शिकायत की गई।

टोकन के बावजूद अब तक गेहूं नहीं खरीद गया

सपा जिलाध्यक्ष गिरीश यादव ने कहा कि एक ओर तो सूबे की योगी सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की बात करती है, पर दूसरी तरफ अलीगढ़ में किसान बेहाल हैं। अच्छी पैदावार के बाद भी किसानों को अपना गेंहूं बेचने के लिए लोहे के चने चबाने पड़ रहे हैं। मौजूदा हालात की तस्वीरें किसानों की परेशानी बयां कर रही हैं। उन्होंने बताया कि किसानों की इन्हीं परेशानियों को देखते हुए पदाधिकारियों के साथ धनीपुर मंडी पहुंचे थे। यहां तीन क्रय केंद्र चालू मिले। किसानों ने बताया कि टोकन के बावजूद अब तक गेहूं नहीं खरीद गया। बारिश में गेहूं भीग जाने के डर भी बना हुआ है। आरएफसी के केंद्र पर 50 किलो 200 ग्राम की जगह 50 किलो 650 ग्राम तौल पकड़ी गई। इसको लेकर एसडीएम कोल से फोन पर संपर्क कर शिकायत की गई। एसडीएम ने कार्रवाई का आश्वासन दिया है। किसानों का कहना है कि रजिस्ट्रेशन कराने के बाद उन्हें गेहूं बेचने के लिए टोकन मिला था। शासन के आदेश हैं कि टोकन पर ही 22 जून तक गेहूं खरीदे जाएं, लेकिन उनके गेहूं की तौलाई नही हो पा रही है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि किसानों की परेशानी देखते हुए डिप्टी आरएमओ एक बात की गई। डिप्टी आरएमओ ने आश्वास्त किया है कि टोकन धारक किसानों का गेहूं खरीदने में कोई अनियमितता नहीं होगी। गेहूं बेचने आए किसानो में भूपेश कुमार, अनुराग शर्मा, सतीश बाबू, सियाराम, सतेंद्र पाल सिंह आदि थे। वहीं, सपाइयों में पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खान, जिला उपाध्यक्ष कृपाल सिंह, जिला महासचिव मुकेश माहेश्वरी, महानगर महासचिव मनोज यादव, कोषाध्यक्ष गुड्डा यादव, शिवम यादव, कुलदीप यादव, दीपक बघेल, राजेश माहौर, विकाश यादव, धारा सिंह, रहमुद्दीन, संजय प्रजापति, मनोज सविता, विजय सैनी आदि थे।