जासं, अलीगढ़ : कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है। मोर्चा के साथ जुड़े तमाम किसान संगठन बंद को सफल बनाने की तैयारी में जुट गए हैं। व्यापारी संस्थान, यूनियनों से समर्थन मांग रहे किसान नेताओं ने सभी तरह की व्यापारिक गतिविधियां बंद रखने की अपील की है। रविवार को भी टोलियों में निकले किसान नेताओं ने जगह-जगह पोस्टर लगाए और सहयोग मांगा। इधर, बंद को लेकर पुलिस प्रशासन सतर्क है।

मुजफ्फरनगर रैली में संयुक्त किसान मोर्चा ने 27 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया था। इसके बाद किसान संगठन इसके प्रचार-प्रसार में जुट गए। शहर के अलावा गांव-गांव जाकर किसान नेताओं ने पोस्टर लगाकर बंद का समर्थन करने की अपील की। संयुक्त किसान मोर्चा की अलीगढ़ इकाई के संयोजक शशिकांत ने बताया कि अलीगढ़ बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ब्रजेश कुमार सिंह ने बंद का समर्थन किया है। आल इंडिया लायर्स यूनियन के प्रांतीय सचिव ओपी शर्मा ने प्रदेशभर में यूनियन द्वारा सहयोग देने का आश्वासन दिया है। उत्तर प्रदेश आटो रिक्शा चालक यूनियन के प्रांतीय महामंत्री अशोक गोस्वामी ने आटो चालकों से चक्का जाम रखने की अपील की है। गल्ला, फल-सब्जी व्यापारी संघ, मंडी व्यापारी भी साथ हैं। संयोजक ने बताया कि संगठन ने गाइडलाइन जारी की है। इसमें सुबह आठ बजे तक केवल दूध की बिक्री करने की अनुमति है। आमजन से रविवार शाम को ही आवश्यक का सामान खरीदने की अपील के साथ सोमवार को अनावश्यक यात्रा न करने का अनुरोध भी किया गया। वहीं, अभिभावकों से अपील है कि बच्चों को स्कूल, कोचिग न भेजें।

किसानों की पदयात्रा

भाकियू (स्वराज) के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने बताया कि युवा मोर्चा के प्रदेश महासचिव राहुल यादव, सुभाष यादव, अनिल यादव के नेतृत्व में सुबह नौ बजे बिलौना भट्ठे से मलसई अड्डे होते हुए गंगीरी चौराहे तक पदयात्रा निकलेगी। उधर, आलमपुर चौराहे से दादों तक और जलाली चौकी से मुख्य राजमार्ग तक पदयात्रा निकाली जाएगी।

Edited By: Jagran